योगी सरकार हुई मालामाल, सोनभद्र की पहाड़ी में मिला साढ़े 3 हजार टन सोना | सोनभद्र

जिले के गर्भ में सोने की भारी खान का पता लगाने में सरकार को 40 साल से अधिक का समय लग गया। इतना ही नहीं गुलामी के दौर में अंग्रेजों ने भी सोने की खान का पता लगाने की कोशिश की थी लेकिन, वह कामयाब नहीं हो सके थे।

जिले के गर्भ में सोने की भारी खान का पता लगाने में सरकार को 40 साल से अधिक का समय लग गया। इतना ही नहीं गुलामी के दौर में अंग्रेजों ने भी सोने की खान का पता लगाने की कोशिश की थी लेकिन, वह कामयाब नहीं हो सके थे। आजादी से पहले ही सोना के लिए हुई खोज के चलते ही पहाड़ी का नाम सोन पहाड़ी पड़ गया था, तब से लेकर अब तक यहां के आदिवासी इसे सोन पहाड़ी के नाम से ही जानते हैं। उन्हें इस बात का तनिक भी इल्म नहीं था कि इन पहाड़ियों के गर्भ में तीन हजार टन सोना दबा पड़ा है।