जल्द ही उत्तर प्रदेश में बसों का संचालन करेंगी महिलाए

आज के समय में महिलाए हर एक क्षेत्र में आगे है चाहे वो शिक्षा का क्षेत्र हो या खेल का आज के समय में महिलाओ की पहुंच हर जगह है है और अब महिलाएं उतर प्रदेश राज्य परिवहन निगम की बसें भी चलाएंगी।

जल्द ही उत्तर प्रदेश में बसों का संचालन करेंगी महिलाए

आज के समय में महिलाए हर एक क्षेत्र में आगे है चाहे वो शिक्षा का क्षेत्र हो या खेल का आज के समय में महिलाओ की पहुंच हर जगह है है और अब महिलाएं उतर प्रदेश राज्य परिवहन निगम की बसें भी चलाएंगी। इसके लिए शासन स्तर से कवायद शुरू हो गई है दरसअल ये आधी आबादी को बढ़ावा देने के लिए यह पहल की जा रही है। और अब  वाराणसी परिक्षेत्र ने इसे मूर्त रूप देना शुरू भी कर दिया है और एक पत्रिका से मिली जानकारी के अनुसार वाराणसी परिक्षेत्र के सोनभद्र डिपो में 3 महिलाओं ने चालक पद के लिए आवेदन भी किया है।लेकिन इन रोडवेज बसों में चालक के लिए लंबाई 5.3 इंच से अधिक होनी चाहिए। इतनी लंबाई होने पर ही संविदा के तौर पर चालक पद पर भर्ती की जाएगी।

अगर बात करे रोडवेज वाराणसी परिक्षेत्र की तो यहाँ  8 डिपो में कुल 16 महिला परिचालक हैं।और इन महिला परिचालकों की डियूटी  वाराणसी-प्रयागराज, वाराणसी-शक्तिनगर, वाराणसी-गोरखपुर रूटों पर लगाई गई है |  

सबसे अच्छी खबर ये है की महिलाओं की सुरक्षा को लेकर वाराणसी में पिंक बसों का भी संचालन किया जा रहा है लेकिन इन बसों में महिला चालक नहीं रहती लेकिन अब ऐसे  में पिंक बसों में भी महिला चालकों की भर्ती की जाएगी। तब परिचालक व चालक दोनों महिला ही रहेंगी।