Varanasi News : इलाहाबाद से वाराणसी पंहुचा मस्जिद में लगे लाउडस्पीकर से अजान का विवाद

मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है, लाउडस्पीकर को लेकर तमाम राजनीतिक पार्टीयो के मुद्दे जहां गरम हो रहे हैं , वहीं अब यह मामला ट्विटर पर भी जा चुका है।

Varanasi News : इलाहाबाद से वाराणसी पंहुचा मस्जिद में लगे लाउडस्पीकर से अजान का विवाद

मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है, लाउडस्पीकर को लेकर तमाम राजनीतिक पार्टीयो के मुद्दे जहां गरम हो रहे हैं , वहीं अब यह मामला ट्विटर पर भी जा चुका है।

बता दें कि इससे पहले प्रयागराज में इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रोफेसर संगीता श्रीवास्तव ने लाउडस्पीकर से लगे अजान को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस को पत्र लिखा था , जिसके बाद वहां पर 10:00 बजे तक सुबह लाउडस्पीकर बजने पर प्रतिबंध लगाया गया। इसके बाद अब मामला बनारस पहुंच चुका है।

जहां पर एक छात्र ने लाउडस्पीकर को लेकर यूपी पुलिस को टैग करके ट्विटर पर एक सूचना दी जिसमें छात्र ने आरोप लगाया कि एक साल से मैं किराए के मकान में भदैनी इलाके में रह रहा हूं , वहीं उन्होंने बताया कि हमारे बगल में मस्जिद है जहां से प्रत्येक सुबह दोपहर शाम रात लाउडस्पीकर पर जोर जोर से चिल्लाने से मानसिक रोग उत्पन्न होता है और उन्होंने इसके लिए पुलिस से अनुरोध किया कि इस पर कार्यवाही की जाए। जिस पर वाराणसी पुलिस का जवाब आया की इस संबंध में प्रभारी निरीक्षक को कार्रवाई हेतु निर्देश दिए गए हैं।

 

आपको बता दें मस्जिद में लगे लाउडस्पीकर का विवाद अलग-अलग राज्यों में कई बार सामने आ चुका है , जिस पर कई बार गतिरोध भी हो चुके हैं। अब यह मामला प्रयागराज से वाराणसी पहुंच चुका है। इलाहाबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के कुलपति अजान को लेकर जिला प्रशासन को पत्र लिखा था उसके बाद अब बीएचयू के एक छात्र ने वाराणसी पुलिस को ट्विटर पर ट्वीट करते हुए एक और शिकायत दर्ज कराई है। अब देखने की बात होगी सिर्फ मस्जिद की अजान पर रोक लगाई जाएगी या फिर मंदिरों पर जो बज रहे गानों पर भी रोक लगाई जाएगी।