Varanasi News- BHU छात्रा का शव मिला पंखे से लटका , परिवार में फैला मातम का माहौल साथ ही पुलिस जुटी जांच में

वाराणसी। लंका थाना क्षेत्र के संकट मोचन मंदिर के पीछे भोगाबीर में मुन्ना पटेल के मकान में किराए का कमरा लेकर रह रही बीएचयू एमएम द्वितीय वर्ष की छात्रा शशि मौर्य का शव बुधवार की शाम उसके कमरे में पंखे से लटकता मिला।

Varanasi News- BHU छात्रा का शव मिला पंखे से लटका , परिवार में फैला मातम का माहौल साथ ही पुलिस जुटी जांच में

वाराणसी। लंका थाना क्षेत्र के संकट मोचन मंदिर के पीछे भोगाबीर में मुन्ना पटेल के मकान में किराए का कमरा लेकर रह रही बीएचयू एमएम द्वितीय वर्ष की छात्रा शशि मौर्य का शव बुधवार की शाम उसके कमरे में पंखे से लटकता मिला। इसकी जानकारी तब हुई जब रूम पार्टनर कमरे पर पहुंची, सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को नीचे उतारा।पुलिस ने छात्रा के पिता द्वारिका प्रसाद को फ़ोन से सूचना दिया, जिसके बाद मौके पर मां राजपति देवी और भाई दिनकर व परिवार का शव देखकर कोहराम मच गया। मूलरूप से सारनाथ थाना क्षेत्र के पतरवां गांव के रहने वाले द्वारिका मौर्य खेती बारी करते हैं।

 

 

इनकी बेटी शशि मौर्य बीएचयू से एमए द्वितीय वर्ष की छात्रा है। बुधवार की दोपहर में शशि अपने कमरे में टैब से ऑनलाइन क्लास कर रही थी। आशंका है इसके बाद दुपट्टे के सहारे फांसी लगा लिया।मौके पर पहुंचे इंस्पेक्टर लंका महेश पांडेय ने बताया कि कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। छात्रा का टैब और मोबाइल कब्जे में लिया गया है। मृतका ने सुबह 10 बजे अपने घर पर मां और परिवार वालों से बात की थी और शाम को जीवपुत्रिका पूजा में आने के लिए भी बोला था। परिवार में किसी को उम्मीद नही थी कि तीन घण्टे बाद उन्हें बेटी के मौत की सूचना मिलेगी।

 

 

 

इसके पूर्व शशि नगवां में रहती थी और यहां दो माह पूर्व से रह रही थी।शशि की रूम पार्टनर रिंकी बीएचयू से बीएफए कर रही है जो सुबह नाश्ता करने के बाद पांडेयपुर में कोई परीक्षा देने चली गई। रिंकी ने बताया कि उसने शशि को फोन की थी लेकिन फोन रिसीव नहीं होने पर उसने बगल में रहने वाली छात्रा को फोन करके पूछा, जिसने दरवाजा पीटा लेकिन उत्तर नही मिला। घरवालों ने बताया कि शशि तीन दिन पूर्व घर से छुट्टी बिताकर आई थी।