UP में ब्राह्मण पॉलिटिक्स : UP में बीजेपी विधायकों के बागी तेवर, अपनी ही सरकार पर उठा रहे सवाल

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार (Yogi Government) के कामकाज पर अब विपक्ष (Opposition) के साथ-साथ बीजेपी के विधायक (BJP MLA) भी सवाल उठाने लगे हैं. ऐसा करने वाले कुछ विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ खुलेआम बयानबाजी कर रहे हैं, तो कुछ ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं.

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार (Yogi Government) के कामकाज पर अब विपक्ष (Opposition) के साथ-साथ बीजेपी के विधायक (BJP MLA) भी सवाल उठाने लगे हैं. ऐसा करने वाले कुछ विधायक अपनी ही सरकार के खिलाफ खुलेआम बयानबाजी कर रहे हैं, तो कुछ ट्विटर और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं. हाल में लखीमपुर में हर्ष फायरिंग में हुई मौत के मामले में पुलिस ने सानू खान नाम के एक आरोपी को कथित तौर पर बचाने की कोशिश की, तो मामले पर योगी के गढ़ गोरखपुर के सदर विधायक डॉक्टर राधा मोहन दास अग्रवाल ने ट्वीट कर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किये. हालांकि कुछ ही देर बाद डीजीपी का कॉल उनके पास आया. उधर, सुल्तानपुर के बीजेपी विधायक देवमणि द्विवेदी ने ब्राह्मणों के मसले पर पार्टी और योगी सरकार को घेरने की कोशिश की है. उन्होंने पिछले तीन वर्षों में सूबे में मारे गए ब्राह्मणों की संख्या को लेकर सवाल किया है. इसके लिए विधानसभा में प्रश्न के लिए आवेदन देकर पिछले तीन साल में कितने ब्राह्मणों की हत्या और इन मामलों में कितने आरोपियों की गिरफ्तार हुई, इसकी जानकारी मांगी. सुल्तानपुर की लम्भुआ सीट से पहली बार विधायक बने द्विवेदी हाल में तब खबरों सुर्खियों में आए, जब वो बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी के समर्थन में अलीगढ़ गए थे.