UTTAR PRADESH SEAL: यूपी में 15 जिलों के करना हॉटस्पॉट को सील किया जाएगा,पूरा जिला सील नहीं होगा

यूपी में प्रदेश सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए प्रदेश के 15 जिलों के उन इलाकों को पूरी तरह सील करने का निर्णय लिया है जहां संक्रमण सबसे ज्यादा है। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि 15 जिलों के उन इलाकों को ही सील किया जाएगा जो हॉटस्पॉट बन चुके हैं। पूरा जिला सील नहीं किया जाएगा।

यूपी में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाए जाने की अटकलों के बीच प्रदेश सरकार ने  15 जिलों की हॉटस्पॉट वाली जगहों को रात 12 बजे से सील करने का निर्णय लिया है। इन जिलों में उन जगहों पर ज्यादा सख्ती रखी जाएगी जहां पर कोरोना से संक्रमित मरीज मिले हैं। जिलों की इन जगहों को सील करने की रणनीति के साथ ही मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने यह साफ कर दिया है कि उन जगहों पर किसी भी प्रकार की लापरवाही स्वीकार नहीं की जाएगी | मरीजों की संख्या में हो रहे इजाफे को रोकने के लिए ये कदम उठाये जा रहे है |अब यूपी में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 350 हो गई है।

 इन जिलों के हॉटस्पॉट किए जाएंगे सील-
वाराणसी, लखनऊ, महराजगंज, बस्ती, बुलंदशहर, नोएडा, गाजियाबाद, शामली, कानपुर, सीतापुर, मेरठ, सहारनपुर, आगरा, फिरोजाबाद और बरेली।15 जिलों में कितने हैं हॉटस्पॉट
आगरा में 22, गाजियाबाद में 13, लखनऊ, कानपुर और नोएडा में 12, वाराणसी, महाराजगंज और सहारनपुर में 4, बस्ती, बुलंदशहर, फिरोजाबाद और शामली में 3, सीतापुर में 1 हॉट स्पॉट चिह्नित किए गए हैं जो 14 अप्रैल तक पूरी तरह से सील रहेंगे। हॉटस्पॉट वाले इलाकों में  दूध, राशन जैसी सभी जरूरत वाली दुकानें भी बंद रहेंगी। सभी आवश्यक चीजों को जिला प्रशासन मुहैया कराएगा। इन मोहल्लों में पड़ने वाले बैंक भी बंद रहेंगे।वही मीडिया का जाना भी प्रतिबंधित रहेगा | यहाँ सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि यहां लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन कराया जाएगा और ज़रूरत पड़ने पर यहाँ ड्रोन से निगरानी भी की जाएगी।