टिड्डियों के हुए हमले पर केंद्रे ने जारी की 16 राज्यों में अलर्ट- जानिए क्यों किया टिड्डियों ने हमला

अचानक हुए टिड्डियों के हमले की वजह से राजस्थान, एमपी, यूपी और हरियाणा सहित कई प्रदेशों में अलर्ट है| किसानों की करीब 90 हजार हेक्टेयर फसल तबाह हो चुकी है.....

टिड्डियों के हुए हमले पर केंद्रे ने जारी की 16 राज्यों में अलर्ट- जानिए क्यों किया टिड्डियों ने हमला

आखिर इस बार पिछले 26 साल का सबसे बड़ा हमला कैसे हुआ.टिड्डियों के झुंड ने बुधवार (27 मई) और गुरुवार (28 मई) को उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में फसलों को बर्बाद कर दिया। यह जिला बिहार, छत्तीसगढ़, झारखंड और मध्यप्रदेश की सीमाओं से जुड़ा है। टिड्डियों के हमले ने छह राज्यों में फसलों को भारी नुकसान पहुंचाया है, जिसके बाद केंद्र सरकार ने इसे लेकर 16 राज्यों को चेतावनी जारी की है।

उत्तर प्रदेश के कृषि अधिकारियों ने कहा कि बुधवार (27 मई) को दोपहर में टिड्डियों का समूह मध्यप्रदेश से उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के घोरावाल इलाके में पहुंचा और कई गांवों की सब्जियों की खेती को चट कर गया। एक स्थानीय निवासी जगदीश सिंह ने कहा, "टिड्डियों का झुंड कई समूहों में गांव के ऊपर से उड़ा और सब्जियों की खेती को तबाह कर गया।" वहीं जिले के कृषि अधिकारी पीयूष राय ने कहा कि ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा है क्योंकि ज्यादातर सब्जियों और दूसरे फसलों की कटाई कर ली गई थी।

क्यों किया टिड्डियों ने हमला 

प्रोफेसरों का कहना है की जलवायु परिवर्तन की वजह से करीब 5 महीने पहले पूर्वी अफ्रीका में मौसम टिड्डियों के काफी अनुकूल था|  अच्छी बारिश हुई थी, इस वजह से टिड्डियों का अच्छा विकास हुआ| कोरोना लॉकडाउन की वजह से मानवीय दखल तब हुआ जब उन्होंने तबाही मचानी शुरू कर दी| 

बताया गया है कि अफ्रीका से करीब 200 किलोमीटर रोजाना का सफर तय करते हुए ये टिड्डियां दक्षिणी ईरान और फिर दक्षिण पश्चिमी पाकिस्तान पहुंचीं| वहां भी प्रजनन के लिए अच्छा माहौल मिला| इससे उनकी तादाद में इजाफा हुआ|  पाकिस्तान से ये हवा के साथ भारत आ गईं. जुलाई की शुरुआत तक टिड्डियों का प्रकोप जारी रहने की आशंका है|