Varanasi : काशी में महिलाओं को नौकरी देने के बहाने जबरन कराते थे देह व्यापार

नई बस्ती पांडेपुर में पुलिस ने सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है. इसमें 3 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पूछताछ में यह सामने आया है कि ये लोग भोली भाली महिलाओं को नौकरी का लालच देकर अपने यहां बुलाते थे. और उनसे जबरन देह व्यापार कराते थे. छापे के दौरान तलाशी लेने पर इनके पास से दो मोबाइल फोन कुछ दवाएं और अन्य आपत्तिजनक चीजें बरामद हुई हैं.

Varanasi : काशी में महिलाओं को नौकरी देने के बहाने जबरन कराते थे देह व्यापार

नई बस्ती पांडेपुर में पुलिस ने सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है. इसमें 3 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पूछताछ में यह सामने आया है कि ये लोग भोली भाली महिलाओं को नौकरी का लालच देकर अपने यहां बुलाते थे. और उनसे जबरन देह व्यापार कराते थे. छापे के दौरान तलाशी लेने पर इनके पास से दो मोबाइल फोन कुछ दवाएं और अन्य आपत्तिजनक चीजें बरामद हुई हैं.

सीओ कैंट एएसपी अभिमन्यु मांगलिक ने बताया कि पांडेपुर चौकी इंचार्ज राजकुमार पांडे को सूचना मिली थी कि पांडेपुर नई बस्ती स्थित एक मकान में सेक्स रैकेट संचालित किया जा रहा है. इस सूचना के आधार पर लालपुर पांडेपुर इंस्पेक्टर सुधीर कुमार सिंह पांडेपुर चौकी इंचार्ज और महिला पुरुष कांस्टेबल की टीम लेकर छापा मारा. गेट पर आहट पाकर दो महिला और दो पुरुष से भाग निकले. मौके पर एक महिला और एक पुरुष आपत्तिजनक अवस्था में थे.

वही एक अन्य युवक चौकी के नीचे छुपा दिया था. पुलिस ने मौके से पांडेपुर नई बस्ती निवासी महिला, हुकूलगंज के राधे पटेल और चंदौली के कोतवाली थाना अंतर्गत पंडित पुरवा निवासी बृजेश मौर्य पकड़ा. वही दो महिलाएं और दो पुरुष छत के रास्ते भागने में सफल रहे पूछताछ में पकड़ी गई महिलाओं ने बताया कि वह फरार हुई अन्य महिलाओं के साथ मिलकर अपने घर में देह व्यापार का अड्डा चलाती हैं.

 

जिसमें से महिलाओं को नौकरी के नाम पर बुलाते थे. और उनसे देह व्यापार कराते थे. उनके साथ कई पुरुष भी शामिल हैं. कुछ महिलाएं खुद भी अपनी मर्जी से उनके घर आ जाती थी. जो भी रुपए मिलते थे उसमें आधा आधा हिस्सा बांट दिया करते थे. कार्रवाई के दौरान स्थानीय लोगों को तो पहले कुछ समझ नहीं आया लेकिन बाद में पता चला कि यह देह व्यापार का मामला है.