फ़ोटो वाइरल होते ही दीप सिद्धू से किनारा करते दिख रहे है सनी देओल

लाल किले की प्राचीर पर झंडा फहराने के मामले में चर्चा में आए दीप सिद्धू कांग्रेस नेता समेत कई लोगों के निशाने पर हैं. उनको लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं. इसी बीच एबीपी न्यूज़ ने उनसे बात की. एबीपी न्यूज़ से वह नहीं बता सके कि किसके कहने पर लाल किला गए थे|

फ़ोटो वाइरल होते ही दीप सिद्धू से किनारा करते दिख रहे है सनी देओल

लाल किले की प्राचीर पर झंडा फहराने के मामले में चर्चा में आए दीप सिद्धू कांग्रेस नेता समेत कई लोगों के निशाने पर हैं. उनको लेकर सोशल मीडिया पर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं. इसी बीच एबीपी न्यूज़ ने उनसे बात की. एबीपी न्यूज़ से वह नहीं बता सके कि किसके कहने पर लाल किला गए थे. वहीं सिख फॉर जस्टिस का अजेंडा चलाने के नाम पर भी कोई जवाब उनके पास नहीं था. हालांकि सभी आरोपों को उन्होंने गलत बताया है.

कांग्रेस एमपी रवनीत सिंह बिट्टू ने दीप सिद्धू पर हमला बोला है. उन्होंने कहा,''आज के उपद्रव के पीछे सिख फॉर जस्टिस का हाथ है. खलिस्तानी दीप सिद्धू ने साज़िश रची है. लाल क़िला पर जो झंडा फहराया गया वो सिख झंडा नहीं था. हमारा धार्मिक झंडा केसरी होता है पीला नहीं. जिन्होंने लाल क़िला पर कब्ज़ा किया और उपद्रव मचाया वो खालिस्तानी थे. किसान आज के उपद्रव में शामिल नहीं था। NIA की जांच हो और जो भी इसके पीछे है उसको आज ही रात में जेल में डाला जाये.''


बता दें कि सिद्धू से संयुक्त किसान मोर्चा ने किनारा किया है. वहीं दीप खुद को बालीवुड एक्टर और बीजेपी सांसद सन्नी देओल का कज़िन बताते हैं. 2019 के लोक सभा चुनाव में सनी देओल के पूरे प्रचार में वह उनके साथ होते थे. सन्नी के साथ PM को भी मिला था. हाल में PM और सन्नी देओल के साथ फ़ोटो भी वाइरल हुआ था. अब लोग इसी तस्वीर को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर कर सवाल उठा रहे हैं| 


हालांकि फ़ोटो वाइरल होने के बाद गुरदासपुर से BJP सांसद सनी देओल ने दीप सिद्धू से किनारा कर लिया था. उन्होंने कहा,'' आज लाल क़िले पर जो हुआ उसे देख कर मन बहुत दुखी हुआ है. मैं पहले भी, 6 दिसंबर को ट्वनिटर के माध्यम से यह साफ कर चुका हूं कि मेरा या मेरे परिवार का दीप सिद्धू के साथ कोई संबंध नही है|