Weekend Curfew in Delhi : दिल्ली में लगा वीकेंड कर्फ्यू, शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 तक रहेंगी पाबंदियां

दिल्ली में जारी कोरोना महामारी के कोहराम के बीच स्थिति को काबू करने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह छह बजे तक के लिए वीकेंड कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है।

Weekend Curfew in Delhi : दिल्ली में लगा वीकेंड कर्फ्यू, शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 तक रहेंगी पाबंदियां

दिल्ली में जारी कोरोना महामारी के कोहराम के बीच स्थिति को काबू करने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह छह बजे तक के लिए वीकेंड कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया है। केजरीवाल गुरुवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ बैठक में शहर के कोविड-19 हालात पर हुई चर्चा के बाद वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा की है। वीकेंड कर्फ्यू के दौरान मॉल, स्पा, जिम, ऑडिटोरियम आदि सब बंद रहेंगे, लेकिन सिनेमा हॉल 30 प्रतिशत क्षमता के साथ चल सकेंगे।

केजरीवाल ने कहा कि एक साप्ताहिक बाजार को एक दिन में और एक जोन के हिसाब से अनुमति दी जाएगी। साप्ताहिक बाजार में ज्यादा भीड़ न हो इसके लिए खास इंतजाम किए जा रहे हैं। रेस्टोरेंट में अब बैठ कर खाने की इजाजत नहीं होगी, केवल होम डिलीवरी की अनुमति होगी। हम जरूरी सेवाओं से जुड़े लोगों और शादियों के लिए लोगों को कर्फ्यू पास देंगे।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के अस्पतालों में बेड्स की कोई कमी नहीं है। अभी 5,000 से ज्यादा बेड खाली हैं, लेकिन मरीजों के चूजी होने से थोड़ी दिक्कत हो सकती है। हमारा प्रयास है कि दिल्ली में सभी मरीजों को इलाज और बेड मिल सकें।  

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बुधवार को कहा था कि राजधानी में कोविड​​-19 के मामले हर दिन बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं , और महामारी के प्रसार में कोई कमी नहीं आई है। हालांकि मंत्री ने फिर से कहा कि लॉकडाउन स्थिति का हल नहीं है और बीमारी से निपटने के लिए लोगों को जरूरत पड़ने पर ही बाहर निकलने, सभाओं से बचने, मास्क पहनने और कोविड-19-उचित व्यवहार का पालन करने की सलाह दी। जैन ने कहा कि विभिन्न अस्पतालों में बेड्स की संख्या बढ़ाई गई है, इसके अलावा दिल्ली सरकार ने फिर से केंद्र से अपने अस्पतालों में बेड्स की संख्या बढ़ाने का अनुरोध किया है। सरकार ने बेड्स की आवश्यकता को पूरा करने के लिए कई अस्पतालों के साथ बैंक्वेट हॉल और होटलों को जोड़ने के आदेश जारी किए हैं।

दिल्ली में बुधवार को कोरोना वायरस के मामलों में भारी वृद्धि जारी रही और इस दौरान 17,000 से अधिक नए मामले सामने आए तथा 104 और मरीजों की मौत हुई, जबकि एक्टिव केस भी बढ़कर 50,000 के पार पहुंच गए। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी बुलेटिन के अनुसार, बुधवार को 17,282 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या 7,67,438 तक पहुंच गई है, जबकि 9,952 और मरीजों के स्वस्थ होने से कोरोना मुक्त लोगों की संख्या बढ़कर 7,05,162 हो गई। राजधानी में मरीजों के स्वस्थ होने की दर आज आंशिक रूप से घट कर 91.88 फीसदी पर आ गई। इस दौरान 104 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 11,540 पर पहुंच गया। राजधानी में मृत्यु दर महज 1.50 फीसदी रह गई है। मृतकों के मामले में देशभर में दिल्ली चौथे स्थान पर है। राजधानी में पिछले 24 घंटों के दौरान 1,08,534 सैंपल्स की जांच की गई। इसके साथ ही अब तक हुई जांच संख्या बढ़कर 2.30 करोड़ के पार पहुंच गई है। प्रत्येक 10 लाख आबादी पर जांच का औसत 8,34,822 है। इस बीच राजधानी में कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़कर 7,598 पर पहुंच गई है।