BJP के गढ़ में सपा ने BJP नेताओ के लिए लगाया NO ENTRY बोर्ड

बनारस में आज सपा कार्यकर्त्ता अनोखा प्रदर्शन कर रहे दरसअल सपा कार्यकर्ता अपने घरो के बाहर किलाबंदी कर के विरोध प्रदर्शन कर रहे साथ ही नो एंट्री बीजेपी का बोर्ड लगा कर बीजेपी नेताओ के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे | आप को बता दे किसान आंदोलन अब धीरे धीरे एक बड़ा और गंभीर मुद्दा बनता जा रहा है |

BJP के गढ़ में सपा ने BJP नेताओ के लिए लगाया NO ENTRY बोर्ड

बनारस में आज सपा कार्यकर्त्ता अनोखा प्रदर्शन कर रहे दरसअल सपा कार्यकर्ता अपने घरो के बाहर किलाबंदी कर के विरोध प्रदर्शन कर रहे साथ ही नो एंट्री बीजेपी का बोर्ड लगा कर बीजेपी नेताओ के खिलाफ  प्रदर्शन कर रहे | आप को बता दे किसान आंदोलन अब धीरे धीरे एक बड़ा और गंभीर मुद्दा बनता जा रहा है | और अब देश के बाहर अब विदेशों में भी किसान आंदोलन के समर्थन को लेकर सियासी जंग शुरू हो चुका है | वाराणसी में सपा नेताओं ने अपने घरों के बाहर नुकीली कीलें लगाकर भाजपा नेताओं के आने पर रोक लगाने का बोर्ड लगा दिया है। और इस अनोखे प्रदर्शन की चर्चा काफी तेजी से हो रही है |  आज सपा के द्वारा किया गया ये अनोखा प्रदर्शन किसानो के समर्थन में किया गया है |

इस दौरान पूर्व पार्षद समाजवादी पार्टी रविकांत विश्वकर्मा ने बताया की आज हमने अपने घरो में इसलिए किलाबंदी किया है की आज लोकतंत्र में कील तंत्र हावी हो गया है| हमारे अन्नदाता पिछले 70 दिनों से अपने हक़ के लिए किसान आंदोलन कर रहे है लेकिन उस किसान आंदोलन को केंद्र सरकार दबाना चाहती है और इसलिए हमारे किसान भाइयो के राहो में सरकार किलाबंदी की है और हम किसान भाइयो के आंदोलन में समर्थन  करते हुवे किलेबंदी कर रहे ताकि कोई बीजेपी नेता अंदर ना आ पाए इस दौरान रविकांत विश्वकर्मा का कहना था की बीजेपी के नेता जहा भी जाते है बस लड़ाई झगड़ा करते है |

इस दौरान सुबह घरों से सपा नेताओं ने नारेबाजी भी की और इंटरनेट मीडिया पर इस कार्रवाई की तस्‍वीरें पोस्‍ट कर अपना विरोध जताया।  
सपा कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों का आरोप है कि किसानों के आंदोलन का समर्थन करने पर कई मौकों पर पुलिस प्रशासन उनको घर में नजरबंद कर चुकी है। ऐसे में विरोध प्रदर्शन करते हुए किसानों के साथ समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता और पदाधिकारी भाजपा के खिलाफ घर से ही आंदोलन के मूड में हैं।  और आज उन्होंने ये किला बंदी कर के विरोध जताया है |