सोनू सूद की नई पहल , बेरोजगारों के लिए दिया ई-रिक्शा | Sonu Sood

Sonu Sood Distributed E-Rikshaw to Unemployed youth कोरोना महामारी के चलते लगे लॉकडाउन के बीच बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद ने देश के मजदूरों और आम लोगो की काफी मदद की जिसके चलते उन्होने आम जनता काको दिल जीत लिया है | लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी सोनू सूद ने लोगों की मदद करने का सिलसिला अभी बंद नही किया है| लॉकडाउन में जिस तरह से उन्होंने प्रवासी मजदूरों

सोनू सूद की नई पहल , बेरोजगारों के लिए दिया ई-रिक्शा | Sonu Sood
Sonu Sood distributed e rikshaw

को उनके घर तक पहुंचाया, गरीबों तक आर्थिक मदद पहुंचाई, वो देख देश की नजरों में सोनू सूद का सम्मान बहुत बढ़ गया है | सोनू सूद अपने नेक कामों के चलते अब गरीबों के मसीहा बन चुके हैं | इसके बाद भी वह लगातार गरीबों की मदद करते जा रहे हैं| अब उन्होंने कोरोना काल में नौकरी गंवा चुके ज रूरतमंदों को ई-रिक्शा मुहैया कराने की योजना बनाई है| एक्टर खुद कमाओ घर चलाओ नाम का एक नया कॉन्सेप्ट लाए हैं, जिसके जरिए जरूरतमंद युवा ये ई-रिक्शा पा सकते हैं | इसके जरिए वे उन लोगों को आत्मनिर्भर बनने का मौका दे रहे हैं जिनकी नौकरियां कोरोना काल में चली गईं|
सोनू सूद ने अपनी इसनई योजना को लेकर एक ट्वीट भी किया है, जिसके जरिए उन्होंने लोगों को इस योजना से जुड़ी जानकारी दी है|  'कल के अच्छे भविष्य के लिए आज एक छोटा सा कदम| ऐसे लोगों को ई-रिक्शा उपलब्ध कराना, जो इसके जरिए अपना छोटा बिजनेस शुरू कर सकें| लोगों को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में एक छोटा सा सहयोग| ' हालांकि, इससे पहले भी सोनू सूद गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिए नई-नई योजनाएं ला चुके हैं|

जरूरतमंदों की मदद करने में सोनू हुई खुद क़र्जदार, सोनू सूद ने आम लोगो करने के लिए अपने घर-दुकानों को गिरवी रखा है|  मज़रूदों को घर पहुंचाने और उनके खाने-पीने का इंतेज़ाम करने, लोगों को रहने के लिए घर बनवाने, बच्चों की तालीम का इंतेज़ाम करने जैसे कामों को करने के लिए सोनू सूद ने अपनी 8 प्रॉपर्टी को गिरवी रखा है|  खबरों की मानें तो सोनू ने 10 करोड़ रुपये जुटाने के लिए जुहू में मौजूद अपनी 8 प्रॉपर्टी को गिरवी रखा था| वेब पोर्टल मनीकंट्रोल के पास मौजूद रजिस्ट्रेशन डॉक्यूमेंट के मुताबिक सोनू सूद ने मुंबइ के जुहू इलाके में मौजूद अपनी 2 दुकानों और 6 फ्लैट्स को गिरवी रखा है. जानकारी के मुताबिक सोनू की दोनों की दुकानें ग्राउंड फ्लोर पर हैं | और फ्लैट्स शिव सागर कोऑपरेटिव हाउसिंग सोसायटी  में हैं|