पैसे के लालच में नामचीन स्कूल की करतूत आई सामने | सोशल डिस्टन्सिंग की अवेहलना करना स्कुल को पड़ा भारी

वाराणसी। भेलूपुर थाना क्षेत्र में लॉकडाउन के दौरान सामाजिक दूरी के नियम की अवहेलना करना एक नामचीन स्कूल के लिए पड़ा महंगा पड़ा। दरअसल मामला ये है की किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी गई कि दी आर्यन इंटरनेशनल स्कूल प्रबंधन की तरफ से लोगो को मैसेज कर के सिटी ऑफिस में बुला कर फीस, कॉपी-किताब के बाबत धनराशि जमा कराई जा रही है और शारीरिक दूरी बनाये रखने के नियम की अवहेलना की जा रही है।

 

वाराणसी। भेलूपुर थाना क्षेत्र में लॉकडाउन के दौरान सामाजिक दूरी के नियम की अवहेलना करना एक नामचीन स्कूल के लिए पड़ा महंगा पड़ा। दरअसल मामला ये है की किसी ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी गई कि दी आर्यन इंटरनेशनल स्कूल प्रबंधन की तरफ से लोगो को मैसेज कर के सिटी ऑफिस में बुला कर फीस, कॉपी-किताब के बाबत धनराशि जमा कराई जा रही है और शारीरिक दूरी बनाये रखने के नियम की अवहेलना की जा रही है।

दी आर्यन इंटरनेशनल स्कूल का सिटी आफिस भेलूपुर थानांतर्गत जैन मंदिर के पास है। कंट्रोल रूम की सूचना पर जब थाना प्रभारी उदय प्रताप सिंह व चौकी प्रभारी सहजानन्द श्रीवास्तव स्कुल पहुंचे तो देखा कि अभिभावक फीस के पैसे काउंटर पर जमा कर रहे है तो कुछ लोग कॉपी किताब के पैसे जमा कर रहे है

और इस दौरान शारीरिक दूरी का पालन भी नहीं हो रहा था। पुलिस ने वह पर लगे भीड़भाड़ व पैसे जमा करने का वीडियो बना लिया। थाना प्रभारी के अनुसार प्रबन्धक विनीत चोपड़ा ऑफिस में नहीं मिले सिर्फ प्रिंसिपल मौके मौजूद मिले। बतादे स्कुल के प्रिंसिपल गणेश सहाय के खिलाफ 88 डिजास्टर एक्ट के अंतर्गत मुकदमा दर्ज किया गया है।