शहर में लॉक डाउन के बाद कालाबाजारी से परेशान जनता |

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में लॉक डाउन के बाद कालाबाजारी बड़े स्तर पर बढ़ता नजर आ रहा है। वाराणसी के जिलाधिकारी के द्वारा खाद्य सामग्रियों के रेट तय किए जाने के बाद भी कालाबाजारी थमने का नाम नहीं ले रहा है। सिगरा स्थित चंदुआ सब्जी मंडी में आलू , टमाटर और प्याज से लेकर तमाम सब्जियों के दामो में 10 से 20 रुपए ज्यादा लिया जा रहा है ।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में लॉक डाउन के बाद कालाबाजारी बड़े स्तर पर बढ़ता नजर आ रहा है। वाराणसी के जिलाधिकारी के द्वारा खाद्य सामग्रियों के रेट तय किए जाने के बाद भी कालाबाजारी थमने का नाम नहीं ले रहा है। सिगरा स्थित चंदुआ सब्जी मंडी में आलू , टमाटर और प्याज से लेकर तमाम सब्जियों के दामो में 10 से 20 रुपए ज्यादा लिया जा रहा है । सब्जी खरीदारों की माने तो दुकानदार लोगो के मजबूरी का फायदा उठा रहे है , जबकि पीएम और सीएम ने ऐसा नही करने के लिए कहा है साथ ही ऐसा करने पर कड़ी कानूनी कार्यवाही का प्रावधान भी है। 
स्थानीय लोगो की माने तो दुकानदार सब्जियों की जमाखोरी कर रहे है। वही सब्जी विक्रेताओं की मानें तो बाहर से आने वाली सभी सब्जिया मंडियों में नहीं आ पा रहे हैं | इसकी वजह से सब्जियों की कमी है। दुकानदारों का कहना है कि जब मंडियों से सब्जी आने शुरू हो जाएंगे तो सब्जियों के दाम खुद-ब-खुद घट जाएंगे। अब देखना ये है की ये कालाबाजारी कब तक चलेंगी |