वाराणसी समेत पुरे उत्तरप्रदेश समेत आज से खुले 6 से 8 तक के स्कूल

कोरोना की वजह से लगभग 10 महीने से बंद पड़े स्कूल अब सरकार के आदेश के बाद आज से पूरी तरह से खोल दिए गए है बतादे वाराणसी समेत पुरे उत्तरप्रदेश में आज से कक्षा 6 से 8 तक के बच्चे आज स्कूल भी पहुंच रहे है और जल्द ही 1 से 5 तक के स्कूल खोले जाएंगे सरकार नेइसके ले सरकार के द्वारा तिथि भी लागू कर दी गई है और लगभग एक मार्च से 1 से लेकर पांचवी तक के सभी प्राइमी स्कूल खोले जाएंगे. कोरोना संक्रमण के कारण लंबे समय से बंद रहे स्कूल आज पहली बार खुले हैं. बीते काफी समय से कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी देखी जा रही है|

वाराणसी समेत पुरे उत्तरप्रदेश समेत आज से खुले 6 से 8 तक के स्कूल
कोरोना की वजह से लगभग 10 महीने से बंद पड़े स्कूल अब सरकार के आदेश के बाद आज से पूरी तरह से खोल दिए गए है बतादे वाराणसी समेत पुरे उत्तरप्रदेश में आज से कक्षा 6 से 8 तक के बच्चे आज स्कूल भी पहुंच रहे है और जल्द ही 1 से 5 तक के स्कूल खोले जाएंगे सरकार नेइसके ले सरकार के द्वारा तिथि भी लागू कर दी गई है और लगभग एक मार्च से 1 से लेकर पांचवी तक के सभी प्राइमी स्कूल खोले जाएंगे. कोरोना संक्रमण के कारण लंबे समय से बंद रहे स्कूल आज पहली बार खुले हैं. बीते काफी समय से कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी देखी जा रही है.

 इसीलिए सरकार ने स्कूलों को खोलने का फैसला किया है. लेकिन सरकार के द्वारा लाए गए इस फैसले के बीच स्कूलों के लिए कुछ गाइडलाइन भी लाए गए है दरसअल लाए गए इस नियम के अनुसार अलग-अलग कक्षाओं के छात्रों को अलग-अलग दिन स्कूल जाना होगा. कक्षा 1 और 5 के छात्र सोमवार और गुरुवार को स्कूल जाएंगे. वहीं, कक्षा 2 और 4 के छात्र मंगलवार को स्कूल जाएंगे. तीसरी कक्षा के छात्र बुधवार व शनिवार को जाएंगे. इसके अलावा कक्षा 6 के छात्र सोमवार व गुरुवार, कक्षा 7 के छात्र मंगलवार व शुक्रवार, वहीं, कक्षा 8 के छात्र बुधवार व शनिवार को स्कूल जाएंगे. वही आप को बतादे कक्षा 9 से 12 तक की पढ़ाई पूरी क्षमता के साथ शुरू की गई है और ऑनलाइन पढ़ाई बंद हो गई है।

आज स्कुल खोलने से पहले कई माध्यमिक और जूनियर हाईस्कूलों स्कूलों में सेनिटाइजेशन हुआ। राज्य शासन की ओर से जारी प्रोटोकाल के अनुसार स्कूलों में व्यवस्था चल रही थी। सोशल डिस्टेंसिंग के अनुसार सीटिंग अरेंजमेंट किया गया है। दो बच्चों के बीच में कम से छह फीट की दूरी रखी गई है। इसके अलावा शिक्षकों के लिए भी कई निर्देश जारी किए गए। परिषदीय विद्यालयों में मिड डे मील पकाने के दौरान क्या-क्या सावधानी बरतनी है, इसकी जानकारी रसोईयों को दी गई और अभिभावको से अपील भी की गई बच्चो को को स्कुल भेजे  |