रिपब्लिक भारत पर फिर लगा लाखो का जुर्माना लगे यह आरोप |

चैनल के खिलाफ सुनाए गए आदेश में कहा गया है कि पाकिस्तानी लोगों के खिलाफ 'पूछता है भारत शो' में आपत्तिजनक और अपमानजनक टिप्पणी की गई है। उनके अपमान का आधार केवल उनकी नागरिकता थी। आदेश में कहा गया है कि 'कार्यक्रम में कही गई बातों से किसी की भी भावनाओँ को ठेस पहुंच सकती है। ऑफकॉम की नजर में यह अपराध है, इस शो ने लोगों का अपमान किया गया है।

रिपब्लिक भारत पर फिर लगा लाखो का जुर्माना लगे यह आरोप |

अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। पिछले दिनों उन्हें मुंबई पुलिस ने एक आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में गिरफ्तार किया था और अब उनके चैनल पर गाज गिरी है। खबर है कि द ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग रेग्युलेटर ने रिपब्लिक भारत हिंदी न्यूज चैनल पर 18 लाख रूपये का जुर्माना लगाया है।

 

बताया जा रहा है कि रिपब्लिक भारत हिंदी न्यूज चैनल ब्रॉडकास्ट करने का लाइसेंस रखने वाली कंपनी पर यूके में 20 हजार यूरो यानी करीब 18 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

 

हेट स्पीच का मामला

दरअसल, ये जुर्माना 'हेट स्पीच' के मामले में लगाया गया है। इस चैनल पर नियमों का उल्लंघन को लेकर यह जुर्माना लगाया गया है। वर्ल्डव्यू मीडिया नेटवर्क लिमिटेड के खिलाफ आदेश जारी करते हुए ऑफिस ऑफ कम्युनिकेशन्स ने कहा, 'पूछता है भारत शो नियम 2.3, 3.2 और 3.3 का उल्लंघन करता है। इस शो में बहुत सारी बिना मतलब की हेट स्पीच है और यह बहुत ही भड़काऊ है।'

 

बता दें, ऑफकॉम ब्रॉडकास्टिंग कोड के नियम 2.3 के अनुसार, किसी ब्रॉडकास्टर को सुनिश्चित करना चाहिए कि कोई भी भड़काऊ बात कॉन्टेक्स्ट को जस्टिफाइ करनी चाहिए। किसी धर्म या मान्यता के खिलाफ भेदभावपूर्ण और गलत भाषा का इस्तेमाल नहीं होना चाहिए।

 

क्या कहते हैं नियम

जबकि नियम 3.2 कहता है कि हेटस्पीच वाले पार्ट को ब्रॉडकास्ट नहीं करना है। अगर कॉन्टेक्स्ट जस्टिफाइड हो तो इसे चलाया जा सकता है। वहीँ, नियम 3.3 कहता है कि किसी व्यक्ति, ग्रुप धर्म या समुदाय के खिलाफ आपत्तिजनक और भद्दी टिप्पणी को ब्रॉडकास्ट नहीं करना है।

 

चैनल के खिलाफ सुनाए गए आदेश में कहा गया है कि पाकिस्तानी लोगों के खिलाफ 'पूछता है भारत शो' में आपत्तिजनक और अपमानजनक टिप्पणी की गई है। उनके अपमान का आधार केवल उनकी नागरिकता थी। आदेश में कहा गया है कि 'कार्यक्रम में कही गई बातों से किसी की भी भावनाओँ को ठेस पहुंच सकती है। ऑफकॉम की नजर में यह अपराध है, इस शो ने लोगों का अपमान किया गया है। यह हेट स्पीच का मामला है। भारत और पाकिस्तान के लोगों के बीच यह भेदभाव को बढ़ाने वाला है।

 

दिया गया नोटिस

इस आदेश में यह भी कहा गया है कि मीडिया कंपनी ने माना है कि जानबूझकर नियमों का उल्लंघन नहीं किया गया और चैनल के सीनियर मैनेजमेंट को भी यह बात नहीं पता है। वहीँ, ऑफकॉम ने चैनल को दो महीने का नोटिस दिया है औऱ कहा है कि अपने ब्रॉडकास्ट को नियंत्रित करें इस शो को लेकर पाकिस्तानी लोगों के लगातार फोन आ रहे हैं और वे इसपर आपत्ति जता रहे हैं।

 

इस आदेश में यह भी बताया गया है कि वर्ल्ड-वाइड मीडिया के खिलाफ एक ही ब्रॉडकास्ट को लेकर जुर्माना लगाया गया है। इस बारे में चैनल ने फैसला लिया है कि भविष्य में वह नियमों का पालन करने की कोशिश करेगी और कुछ डिबेट का लाइव ब्रॉडकास्ट नहीं करेगी।