छावनी पहुंची पुलिस फ़ोर्स खाली कराया बंगला

वाराणसी की छावनी में बंगला कुछ दिनों से चर्चा का विषय रहा तो कि आपको बता दें कि इस बंगले को लेकर के पुलिस और बंगले के कथित तौर पर मालिक के बीच काफी मतभेद हुए और आज वरिष्ठ पीसीएस अधिकारी के सरकारी बंगला खाली कराने के लिए हुई मुनादी के बाद अधिकारियों ने इस विवादित बंगले को खाली करा दिया।

छावनी पहुंची पुलिस फ़ोर्स खाली कराया बंगला

वाराणसी की छावनी में  बंगला  कुछ दिनों से चर्चा का विषय रहा तो कि आपको बता दें कि  इस बंगले को लेकर के  पुलिस और बंगले के कथित तौर  पर मालिक के बीच काफी मतभेद हुए और आज वरिष्ठ पीसीएस अधिकारी के सरकारी  बंगला खाली कराने के लिए हुई मुनादी के बाद अधिकारियों ने इस विवादित बंगले को खाली करा दिया। दरअसल चंदौली जिले में एडीएम न्यायिक के पद पर  तैनात करीब 6 माह पूर्व वाराणसी से ट्रांसफर हुआ था। ट्रांसफर होने से पहले वरिष्ठ पीसीएस अधिकारी वाराणसी में मुख्य राजस्व अधिकारी के पद पर तैनात रहते हुए डीएम कंपाउंड में स्थित  बंगला नंबर B-6 में रहते थे जो अब एसीएम प्रथम को आवंटित हो चुका है। और इस बंगले को करने के किये राजस्व अधिकारी को पिछले 6 माह से करीब आधा दर्जन नोटिस दिया गया था जिसके बाद आज वरिष्ठ प्रशासनिक ने बंगला खाली कराया। इसके बाद मीडिया से बात करते हुए वरिष्ठ पीसीएस अधिकारी ने बताया कि भू-माफियाओं के इशारे पर शासन की ओर से मेरा ट्रांसफर कराया जा रहा है चंदौली ट्रांसफर होने के बाद भी मुझे अब तक सरकारी आवास न मिलने के कारण ही मैं यहां पर रह रहा हूँ लेकिन नियम विरुद्ध तरीके से मेरा आवास खाली कराया जा रहा है।