पीएनबी बैंक घोटाले के भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी, को ब्रिटेन की अदालत ने भेजा हिरासत में | PNB Bank Scam

PNB Bank Scam | लंदन | ब्रिटेन की एक अदालत ने पीएनबी बैंक घोटाले के भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी को 9 जुलाई तक और न्यायिक हिरासत में रखने के आदेश दिये |

पीएनबी बैंक घोटाले के भगोड़े हीरा कारोबारी नीरव मोदी, को ब्रिटेन की अदालत ने भेजा हिरासत में | PNB Bank Scam
PNB Bank Scam

भारत में अरबों रुपये के बैंक कर्ज घोटाले और मनी लॉन्डरिंग के मामलों में अभियुक्त नीरव मोदी पिछले साल मई से लंदन की एक जेल में कैद है|  पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के साथ करीब दो अरब डॉलर की धोखाधड़ी के मामले में नीरव मोदी के खिलाफ ब्रिटेन में प्रत्यर्पण का मुकदमा चल रहा है| नीरव मोदी को जेल से लंदन की वेस्टमिंस्टर अदालत में वीडियो लिंक के जरिये पेश किया गया|  वह पिछले साल मार्च में गिरफ्तारी के बाद से वैंड्सवर्थ जेल में है | अदालत ने सुनवाई में उसकी हिरासत की अवधि नौ जुलाई तक बढ़ा दी| नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के खिलाफ ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया हुआ है|  इस कानून में धन को अवैध रूप से विदेश ले जाने पर कार्रवाई की जाती है|  दोनों कारोबारियों ने पंजाब नेशनल बैंक से 14,000 करोड़ रुपये का लोन लेकर उसे विदेश भेज दिया है|  इस घोटाले के बाद दोनों कारोबारी भारत से भाग गए| 

जिला न्यायाधीश सैमुअल गूजी ने नीरव मोदी से कहा, 'आपके प्रत्यर्पण की प्रक्रिया के संबंध में सात सितंबर को होने वाली अगले चरण की सुनवाई से पहले आप की पेशी इसी तरह से वीडियो लिंक के जरिये होगी| ' इस दौरान नीरव मोदी ने सिर्फ अपना नाम और राष्ट्रीयता बताने के लिये मुंह खोला|  न्यायाधीश गूजी ने प्रत्यर्पण की प्रक्रिया के पहले चरण की पिछले महीने अध्यक्षता की थी|  दूसरे चरण के तहत सात सितंबर से पांच दिन की सुनवाई शुरू होगी| 

आपको बता दे ,नीरव मोदी को मार्च 2019 में लंदन में ब्रिटिश पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था और इस समय वह वहां की जेल में बंद है|  उसे भारत लाने के लिए जांच एजेंसियां प्रत्यर्पण की प्रक्रिया आगे बढ़ा रही हैं जबकि मेहुल चोकसी फरार है|  उसके अफ्रीकी देश एंटीगुआ में होने का पता चला है |  भारत सरकार उसे भी लाने के लिए कूटनीतिक स्तर पर प्रयास कर रही है|  हाल में ही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के घोटाले से जुड़े मामलों में उनकी फर्मों से जब्त 2,300 किलोग्राम हीरे, जवाहरात और आभूषण लेकर हांगकांग से मुंबई आए हैं|