देश भर में 16 जनवरी को शुरू होगा कोरोना वैक्सीनेशन,पीएम मोदी ने वैक्सीनेशन के लिए बनाई कोविन ऐप

देश में 16 जनवरी से कोरोना को हराने के लिए वैक्सीनेशन कैंपेन शुरू होने जा रहा है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जनवरी को सुबह 11 बजे वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत करेंगे| इस अवसर पीएम मोदी वैक्सीनेशन के लिए बनाई गई कोविन ऐप को भी लॉन्च करेंगे| ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया की ओर से कोविड-19 के इलाज के लिए दो वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है|

देश भर में 16 जनवरी को शुरू होगा कोरोना वैक्सीनेशन,पीएम मोदी ने वैक्सीनेशन के लिए बनाई कोविन ऐप

देश में 16 जनवरी से कोरोना को हराने के लिए वैक्सीनेशन कैंपेन शुरू होने जा रहा है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 जनवरी को सुबह 11 बजे वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत करेंगे|  इस अवसर पीएम मोदी वैक्सीनेशन के लिए बनाई गई कोविन ऐप को भी लॉन्च करेंगे| ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया की ओर से कोविड-19 के इलाज के लिए दो वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी मिल गई है| जिनमें कोविशील्ड  और कोवैक्सीन शामिल हैं| वैक्सीनेशन के पूरे प्रोसेस की जानकारी के लिए कोविन ऐप लॉन्च किया जाएगा| कोविड-19 का वैक्सीनेशन तीन चरणों में किया जाएगा| पहले चरण में फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल होंगे| इसके बाद इमरजेंसी वर्कर्स का वैक्सीनेशन होगा| वहीं, तीसरे चरण में वैसे लोग जो पहले से ही किसी बीमारी से ग्रसित हैं, उनका वैक्सीनेशन किया जाएगा| एक व्यक्ति के वैक्सीनेशन का समय लगभग 30 मिनट का हो सकता है| 

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से कोविशील्ड की 1.1 करोड़ खुराक के अलावा भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की 55 लाख खुराक खरीदी जा रही है| उन्होंने कहा कि भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की 55 लाख खुराक खरीदी जा रही है| कोवैक्सीन की 38.5 लाख खुराक में से प्रत्येक पर 295 रुपये (टैक्स लगाकर) की लागत आएगी|  वहीं भारत बायोटेक 16.5 लाख खुराक फ्री मुहैया करा रही है, जिससे इसकी लागत प्रत्येक खुराक पर 206 रुपये आएगी| वहीं भारत सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 200 रुपये प्रति डोज खरीदी है| इस वैक्सीन की 200 रुपये कीमत में टैक्स शामिल नहीं है| कोवीशील्ड की कीमत भारत में 210 रुपये (टैक्स लगाकर) है| 
केंद्र सरकार ने बताया कि मंगलवार दोपहर तक निर्धारित राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय भंडारण केंद्र तक कोविड-19 टीके की 54.72 लाख खुराक पहुंचा दी गई है और 14 जनवरी तक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 1.1 करोड़ और भारत बायोटेक से 55 लाख खुराक मिल जाएगी| बता दें कि कोरोना वायरस के खिलाफ निर्णायक लड़ाई के तहत 16 जनवरी से देश में टीकाकरण अभियान शुरू किया जा रहा है| 


राजेश भूषण ने बताया कि चेन्नई, करनाल, कोलकाता और मुंबई में केंद्र सरकार के चार मेडिकल स्टोर डिपो हैं, जहां पर ऑक्सफोर्ड के कोविड-19 टीके कोविशील्ड की खुराक पहुंच चुकी है|  इसके अलावा सभी राज्यों में कम से कम एक क्षेत्रीय टीका भंडारण केंद्र हैं| उन्होंने कहा कि कुछ बड़े राज्यों में कई स्टोर हैं. उत्तर प्रदेश में इस तरह के नौ स्टोर हैं, मध्य प्रदेश और गुजरात में चार-चार स्टोर हैं| केरल में तीन भंडारण केंद्र हैं. जम्मू कश्मीर, कर्नाटक और राजस्थान में दो-दो स्टोर हैं|