पीएम के सम्बोधन के बाद कांग्रेस की आई कई प्रतिक्रिया | Lockdown 2.0

कांग्रेस के कार्यकर्ताओ और प्रमुख ने मोदी के इस संबोधन को 'हवाहवाई' और खोखला बताया |

पीएम के सम्बोधन के बाद कांग्रेस की आई कई प्रतिक्रिया | Lockdown 2.0

पीएम मोदी ने आज जैसे ही देश को सम्बोधित करते हुवे 3 मई तक सम्पूर्ण लाकडाउन की घोषणा की वैसे ही कांग्रेस के कार्यकर्ताओ और प्रमुख ने मोदी के  इस संबोधन को 'हवाहवाई' और खोखला बताया। दरअसल कांग्रेस का कहना है कि पीएम मोदी का ये भाषण पूरी तरह खोखला था क्यों की इस भाषण में न तो वित्तीय पैकेज का कही पर कोई जिक्र था और न ही इकॉनमी को उबारने के लिए कोई  ठोस कदम की ब्याख्या ।

रणदीप सिंह सुरजेवाला जो कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता है उन्होंने पूछा कि कोरोना वायरस से लड़ने का देश का रोडमैप कहा है। साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि नेतृत्व करने का मतलब यह नहीं है कि लोगों को सिर्फ उनकी जिम्मेदारियों का अहसास कराया जाए बल्कि इसका  मतलब होता है कि देश के लोगों के प्रति सरकार अपनी जवाबदेही के कर्तव्य को निभाए। उन्होंने आगे कहा, 'बहुत सारी बातें कही गईं। लेकिन कोरोना से लड़ने के लिए रोडमैप कहा है ये नहीं बताया गया। इसके बाद 'पूर्व वित्त मंत्री और पी. चिदंबरम ने कहा कि सरकार द्वारा गरीबों को 40 दिन के लिए अपना इंतजाम खुद करने के लिए छोड़ दिया गया है।सरकार के पास धन है, भोजन है लेकिन सरकार वह देगी नहीं। रोओ, मेरे प्यारे देश!'  

इसके बाद कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट कर के यह तक कह दिया कि पीएम मोदी का भाषण उस हैमलेट की तरह है जो बिना प्रिंस ऑफ डेनमार्क के हैं। उन्होंने कहा कि हम जीडीपी का बड़ा हिस्सा इससे निपटने के लिए चाहते हैं लेकिन इन सब पर एक शब्द भी नहीं बोला गया|  इसके बाद मनीष तिवारी ने कहा कि पीएम मोदी ने लोगों को यह तो बताया कि उनकी उनसे क्या उम्मीदें हैं लेकिन यह नहीं बताया कि लोगों के लिए उनकी सरकार क्या कर रही है।

बता दे पीएम के सम्बोधन के बाद लगातार ट्विटर पर कई तरह की प्रतिक्रिया आ रही है |