PM मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति बायडन की हुई मुलाक़ात, पीएम ने कहा की भारत और अमेरिका के लिए यह दशक बेहद अहम है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने अमेरिका के दौरे पर है और इसी दौरान वो अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मुलाकात की | अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के व्हाइट हाउस में ओवल ऑफिस पहुंचने पर उनका स्वागत किया गया | जिसे बाद प्रधानमंत्री मोदी ने भारत और अमेरिका के रिश्तो को लेकर कुछ एहम बाते कही

PM मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति बायडन की हुई मुलाक़ात, पीएम ने  कहा की भारत और अमेरिका के लिए यह दशक बेहद अहम है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने अमेरिका के दौरे पर है और इसी दौरान वो अमेरिकी राष्ट्रपति जो  बाइडेन से मुलाकात की | अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के व्हाइट हाउस में ओवल ऑफिस पहुंचने पर उनका स्वागत किया गया | जिसे बाद प्रधानमंत्री मोदी ने भारत और अमेरिका के रिश्तो को लेकर कुछ एहम बाते कही - उन्होने बताया की भारत और अमेरिका के बीच ट्रेड का अपना महत्व है। इस दशक में ट्रेड के क्षेत्र में भी हम एक दूसरे को काफी मदद कर सकते हैं। बहुत सी चीजें हैं जो अमेरिका के पास हैं जिनकी भारत को ज़रूरत है। बहुत सी चीजें भारत के पास हैं जो अमेरिका के काम आ सकती हैं | भारत और अमेरिका के संबंधों में मैं ट्रांसफॉर्मेटरी देख रहा हूं तब मैं देख रहा हूं कि लोकतांत्रिक परंपराओं और मूल्यों के लिए हम समर्पित हैं, वो ट्रेडिशन, उसका महत्व और बढ़ेगा| 

 


आगे पीएम ने कहा मैं देख रहा हूं कि इस दशक में आपके नेतृत्व में हम जो बीज बोएंगे वो भारत-अमेरिका के साथ-साथ पूरे विश्व के लोकतांत्रिक देशों के लिए बहुत ही ट्रांसफॉर्मेटरी रहेगा| मेरा और मेरे प्रतिनिधिमंडल के गर्मजोशी से स्वागत करने के लिए आपको धन्यवाद देता हूं। 2014 में अपसे चर्चा करने का अवसर मिला और आपने भारत-अमेरिका संबंधों के लिए अपना दृष्टिकोण रखा था जो प्रेरक था। आज राष्ट्रपति के रूप में अपने विजन को आगे बढ़ाने के लिए पहल कर रहे हैं|  मुझे विश्वास है कि आज की हमारी बातचीत में भी इन सभी मुद्दों पर हम विस्तार से विचार विमर्श कर सकते हैं। हम कैसे साथ चल सकते हैं, दुनिया के लिए भी हम क्या अच्छा कर सकते हैं, इसपर हम आज सार्थक चर्चा करेंगे| जो बाइडेन ने मुलाकात के दौरान कहा कि मुझे लंबे समय से विश्वास है कि अमेरिका-भारत के बीच के संबंध हमें कई वैश्विक चुनौतियों का समाधान करने में मदद कर सकते हैं. वास्तव में 2006 में जब मैं उपराष्ट्रपति था, मैंने कहा था कि 2020 तक भारत और अमेरिका दुनिया के सबसे करीबी देशों में होंगे. वहीं, प्रधानमंत्री मोदी ने जवाब दिया कि आज का द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन महत्वपूर्ण है. हम इस सदी के तीसरे दशक की शुरुआत में मिल रहे हैं. आपका नेतृत्व निश्चित रूप से इस दशक को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा. यह दशक भारत और अमेरिका के लिए बेहद अहम होने वाला है. भारत और अमेरिका के बीच और भी मजबूत दोस्ती के बीज बोए गए हैं.


वाशिंगटन डीसी में  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन से पहले वाइट हाउस के बाहर बड़ी संख्या में भारतीय समुदाय के लोग इकट्ठा हुए। महिलाओं के एक समूह द्वारा नृत्य भी किया गया।

 

 

साथ ही अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा की आज मैं व्हाइट हाउस में भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक द्विपक्षीय बैठक में हिस्सा लूंगा। हम दोनों देशों के बीच संबंधों को मज़बूत करने, स्वतंत्र और खुले इंडो-पैसिफिक और COVID-19 से लेकर जलवायु परिवर्तन तक विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे|