Plasma Therapy in Banaras Hindu University | आज से शुरू हुआ BHU में Plasma Therapy |

वाराणसी में आज से काशी हिंदू विश्वविद्यालय में प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत कर दी गई है ।इसके अंतर्गत कोरोना पॉजिटिव कोई भी मरीज जो वर्तमान में निगेटिव हो गया है और जिसके पहले सैंपल से 28 दिन पूरे हो गए हैं। वह काशी हिंदू विश्वविद्यालय के ब्लड बैंक में जाकर ब्लड डोनेट कर सकता है। इससे प्लाज्मा को अलग करके प्लाज्मा गंभीर मरीजों को चढ़ाया जाएगा जो वेंटिलेटर पर हैं।

वाराणसी में आज से काशी हिंदू विश्वविद्यालय में प्लाज्मा थेरेपी की शुरुआत कर दी गई है ।इसके अंतर्गत कोरोना पॉजिटिव कोई भी मरीज जो वर्तमान में निगेटिव हो गया है और जिसके पहले सैंपल से 28 दिन पूरे हो गए हैं। वह काशी हिंदू विश्वविद्यालय के ब्लड बैंक में जाकर ब्लड डोनेट कर सकता है। इससे प्लाज्मा को अलग करके प्लाज्मा गंभीर मरीजों को चढ़ाया जाएगा जो वेंटिलेटर पर हैं। जिनकी हालत बहुत ही ज्यादा क्रिटिकल है। आज जिलाधिकारी ने बताया कि कोई भी कोरोना पॉजिटिव नेगेटिव है और 28 दिन की श्रेणी में आता है तो वह रक्तदान करके अपने प्लाज्मा डोनेशन के माध्यम से लोगों की जीवन रक्षा कर सकता है जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने और भी महत्वपूर्ण बातें बताएं अगर आपको हमारा ये प्रयत्न अच्छा लगा हो तो इस वीडियो को शेयर (Share) जरूर करें और इस प्रोग्राम को लाइक (Like) करें। ZNDM News को आगे भी देखने के लिए चैनल को सब्सक्राइब (Subscribe) करें और घण्टी (Bell Icon) दबाना ना भूलें।