महबूबा मुफ्ती बोली मुझे फिर 2 दिनों से हिरासत में

जानकारी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा कि उनको फिर से हिरासत में लिया हिरासत में लिया गया है । उन्होंने बताया कि 2 दिनों से अपने घर में बंद हैं मुफ्ती ने कहा केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन ने उन्हें पुलवामा में पार्टी नेता वहीद पारा के के परिवार से मिलने की अनुमति नहीं दी मुफ्ती ने दावा किया कि उनकी बेटी को भी घर में नजरबंद रखा गया है ।

महबूबा मुफ्ती बोली मुझे फिर 2 दिनों से हिरासत में

महबूबा मुफ्ती बोली मुझे फिर 2 दिनों से हिरासत में

जानकारी के मुताबिक जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा कि उनको फिर से हिरासत में लिया हिरासत में लिया गया है । उन्होंने बताया कि 2 दिनों से अपने घर में बंद हैं मुफ्ती ने कहा केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन ने उन्हें पुलवामा में पार्टी नेता वहीद पारा के के परिवार से मिलने की अनुमति नहीं दी मुफ्ती ने दावा किया कि उनकी बेटी को भी घर में नजरबंद रखा गया है ।

पीडीपी के युवा और वीगं अध्यक्ष और पूर्व कैबिनेट मंत्री पारा बुधवार को 2 दिनों की पूछताछ के बाद दिल्ली में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा गिरफ्तार किए गएमुफ्ती के बहुत करीबी माने जाते हैं ।


मुफ्ती ने बताया कि मुझे फर्जी आरोप में गिरफ्तार किया गया क्लिप भी साझा की है जिसमें तत्कालीन गृह मंत्री राजनाथ सिंह को जम्मू-कश्मीर खेल परिषद सचिव के रूप में पारा के योगदान की प्रशंसा करते हुए देखा जा सकता है। यह क्लिप उस समय की है जब पीडीपी जम्मू कश्मीर में भाजपा के साथ गठबंधन में थी ।
कहा जाता है घाटी के युवाओं के बीच पारा की बड़ी फैन फ्लोइंग है ।

मुफ्ती ने एक ट्वीट में कहा मुझे फिर से अवैध रूप से हिरासत में लिया गया है 2 दिनों से जम्मू और कश्मीर प्रशासन ने मुझे पुलवामा में वाहिद पारा के परिवार से मिलने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है भाजपा के मंत्री और उनके कठपुतलियों को कश्मीर के हर कोने में घूमने की अनुमति है लेकिन सुरक्षा केवल मेरी मामले में एक समस्या है महबूबा मुफ्ती ने लिखा उनकी  कठोरता का कोई सीमा नहीं है वाहिद को फर्जी आरोप में गिरफ्तार किया गया और मुझे उनके परिवार से मिले नहीं दिया जा रहा है।यहां तक कि मेरी बेटी इल्तिजा को भी घर में नजरबंद रखा गया है क्योंकि वह भी वाहिद के परिवार से मिलना चाहती थी।