महा शिवरात्रि पर काशी में निकली शिव बरात झूमे भूत और अड़भंगी |ZNDM NEWS |

महाशिवरात्रि पर विभिन्न स्थानों से गाजेबाजे के साथ शोभायात्रा निकाली गई। घोड़े व देवों के स्वरूप आकर्षण के केंद्र थे। अखिल भारतीय केशरवानी वैश्य युवक सभा की ओर से गोला दीनानाथ से शोभायात्रा निकाली गई।

महाशिवरात्रि पर विभिन्न स्थानों से गाजेबाजे के साथ शोभायात्रा निकाली गई। घोड़े व देवों के स्वरूप आकर्षण के केंद्र थे। अखिल भारतीय केशरवानी वैश्य युवक सभा की ओर से गोला दीनानाथ से शोभायात्रा निकाली गई। घोड़े पर भगवान शिव व पार्वती के स्वरूप विराजमान थे। बैंडबाजे पर गूंजती भक्ति धुन के बीच शोभायात्रा सेनपुरा स्थित बाबा विश्वेश्वर महादेव पहुंची, जहां अभिषेक व पूजन हुआ।  शोभायात्रा में सीताराम केशरी, संदीप केशरी, अनिल केशरी, अक्षय केशरी, अजय, संजय, राना, लल्ली, सुषमा, सुरेखा, विनीता, सुप्रिया, शिल्पी, ऋषि, हरि, नीरज जायसवाल, नेहा, सुमन, डॉ. एमके गुप्ता आदि शामिल थे। 
स्वामी आशुतोषानंद गिरी के सानिध्य में सुबह विरदोपुर स्थित कैलाश मठ से निकाली शोभायात्रा में शिव दरबार की झांकी के अलावा औघड़, भूत-प्रेत आदि के भी स्वरूप थे। 108 महिलाएं पीले परिधान में शिवलिंग लेकर चल रही थीं। 108 नर्मदेश्वर शिवलिंग तथा द्वादश ज्योतिर्लिंगों के प्रतिरूप का 108 भक्तों ने पूजन किया। शोभायात्रा बड़ी गैबी, गिरीनगर, महमूरगंज होते हुए मठ पहुंचकर समाप्त हुई। शोभायात्रा में अनंतानंद पुरी, स्वामी राघवानंद गिरी, शिवचरन अग्रवाल, लाला चांडक, इंदू सिंह, आरपी सिंह, लाल शारदा, कृष्ण कुमार सोमानी आदि शामिल रहे।