यूपी में चरणबद्ध तरीके से खुल सकता है लॉकडाउन - UTTAR PRADESH NEWS

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में 15 अप्रैल से लॉकडाउन समाप्त होने के संकेत दिए हैं | यूपी के सभी सांसदों और विधायकों के साथ हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उन्होंने यह संकेत दिए | सरकार 15 अप्रैल से चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन को खोल सकती है | पहले उन जिलों में लॉकडाउन खुलेगा जहां एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं है | वहीँ जिन 30 जिलों में संक्रमण फैला है वहां कुछ पाबंदियों के साथ लॉकडाउन में छूट मिल सकती है| लॉकडाउन में छूट के दौरान भी लोगों को सोशल दूरी के नियम का अनुपालन करना होगा| खास बात यह है कि इस दौरान भी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे | दुकानों को एक समयावधि के लिए ही खोला जाएगा | साथ ही सरकारी दफ्तर में भी जरुरत के हिसाब से ही कर्मचारियों को बुलाया जाएगा | मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म होने पर चुनौती बड़ी होगी |

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में 15 अप्रैल से लॉकडाउन समाप्त होने के संकेत दिए हैं |

यूपी के सभी सांसदों और विधायकों के साथ हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में उन्होंने यह संकेत दिए | सरकार 15 अप्रैल से चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन को खोल सकती है | पहले उन जिलों में लॉकडाउन खुलेगा जहां एक भी कोरोना संक्रमित मरीज नहीं है | वहीँ जिन 30 जिलों में संक्रमण फैला है वहां कुछ पाबंदियों के साथ लॉकडाउन में छूट मिल सकती है| लॉकडाउन में छूट के दौरान भी लोगों को सोशल दूरी के नियम का अनुपालन करना होगा| खास बात यह है कि  इस दौरान भी स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे | दुकानों को एक समयावधि के लिए ही खोला जाएगा | साथ ही सरकारी दफ्तर में भी जरुरत के हिसाब से ही कर्मचारियों को बुलाया जाएगा | मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 अप्रैल को लॉकडाउन खत्म होने पर चुनौती बड़ी होगी |


मुख्यमंत्री ने रविवार को यूपी के  सांसदों और विधायकों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में कहा कि अगर तबलीगी जमात का मामला सामने न आता तो हम यूपी में कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने में सफल हो गए थे | सीएम योगी ने कहा कि प्रदेश में 3 दिन में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले मामले बढ़े|  प्रदेश में अभी तक 275 कोरोना पॉजिटिव के केस दर्ज़ किये गए हैं जिसमे 132 संक्रमित मामले सिर्फ तब्लीगी जमात से सामने आये हैं | उन्होंने कहा कि प्रदेश में लॉकडाउन की कार्यवाई को सफल बनाने के लिए हमने सभी कदम उठाए| बाहर से आए लोगों की वजह से स्थिति संवेदनशील हुई | तबलीगी जमात के लोगों ने अव्यवस्था और अराजकता फैलाने का प्रयास किया | 385 से ज्यादा विदेशी भी इसमें शामिल हैं |


मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें 2 स्तर पर तैयारी करनी होगी|  मौजूदा हालात और भविष्य के मद्देनजर रणनीति तैयार करें|  हर जिले में कम्युनिटी किचन चलाएं| इसमें स्वयंसेवी संस्थाओं सहित अन्य जो लोग भी मदद देना चाहें उनकी मदद लें|  भोजन बांटने के लिए कुछ कलेक्शन सेंटर बनाएं| वहां भोजन एकत्र करें  और फिर बंटने के लिए जाएं|

उन्होंने भविष्य की तैयारियों के मद्देनजर एनएसएस, एनसीसी, स्काउट्स और युवक मंगल दल में से वालंटियर तैयार करने की बात की | इनको कोराना के संक्रमण को रोकने और संक्रमण के दौरान क्या करना है, इस बाबत प्रशिक्षण दें|
वहीं सीएम ने ये भी कहा कि लॉकडाउन में जो लोग बेहतर काम कर रहे हैं उनकी सूची बनाएं|  हालात सामान्य होने पर सरकार ऐसे लोगों को सम्मानित करेगी| कालाबाजारी और जमाखोरी पर सख्ती से अंकुश लगाएं| अगर जरूरी सामान थोक बाजार से ही ऊंचे दाम पर मिल रहे हों तो उनके खिलाफ भी एक्शन लें|