Corona News UP : लखनऊ के कोविड अस्पतालों में वेंटिलेटर चलाने वाले स्टाफ की कमी से स्थिति गंभीर

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कारण न तो मरीज़ो को आक्सीजन,वेंटिलेटर व बेड मिल पा रहा हैं। जिसके अभाव में लोगो की जान जा रही हैं।

Corona News UP :  लखनऊ के कोविड अस्पतालों में वेंटिलेटर चलाने वाले स्टाफ की कमी से स्थिति गंभीर

उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कारण न तो मरीज़ो को आक्सीजन,वेंटिलेटर व बेड मिल पा रहा हैं।  जिसके अभाव में लोगो की जान जा रही हैं। लखनऊ की स्थिति बहुत ख़राब हैं,अस्पतालों ने आक्सीजन की कमी से लोगो को भर्ती करने से मना कर दिया हैं।  राजधानी के तीन कोविड अस्पतालों में दो दर्जन से भी अधिक वेंटिलेटर ऑक्सजीन की कमी के कारण खाली पड़े हैं। वही अस्पतालों का कहना है कि मैनपावर नहीं होने के चलते वेंटिलेटर रखे हैं। दूसरी तरफ गंभीर मरीज वेंटिलेटर न मिलने से दम तोड़ रहें हैं। आप को बता दे बलरामपुर, लोकबंधु अस्पताल में लगभग दो दर्ज़न वेंटिलेटर का इस्तेमाल नहीं हो पा रहा है। क्योंकि इन वेंटिलेटर को चलाने के लिए कोई भी प्रशिक्षित स्टाफ नहीं दिया गया।

 बलरामपुर अस्पताल के पास 28 वेंटिलेटर हैं। लेकिन करीब पांच-छह वेंटिलेटर ही सक्रिय हैं। मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. आर के गुप्ता का कहना है कि  वेंटिलेटर तो हैं, मगर इसे चलाने के लिए कोई स्टाफ नहीं है। क्योंकि जो अपने स्टाफ था, वो कोरोना संक्रमित हो गए हैं। इसी तरह लोकबंधु अस्पताल के पास भी करीब 18 वेंटिलेटर हैं। मगर इनमें से सिर्फ तीन-चार वेंटिलेटर ही सक्रिय हैं। एमएमस डा. अजय शंकर त्रिपाठी ने बताया मैनपावर की कमी है। इसलिए सभी वेंटिलेटर चल नहीं पा रहे। काफी स्टाफ संक्रमित हो चुके हैं। आरएसएम अस्पताल के पास भी करीब चार वेंटिलेटर हैं, वह भी इसे चलाने के लिए कोई स्टाफ नहीं है।  कोरोना के गंभीर मरीज वेंटिलेटर नहीं मिलने से दम तोड़ रहे हैं।