क्या सच में दुनिया ख़तम हो जाएगी इस उल्का पिंड से |

भारत समेत दुनिया भर के तमाम देश इस वक्त चीन से फैले कोरोना वायरस (Coronavirus) से जूझ रहे हैं. कोविड-19 से संक्रमण से मौत का आंकड़ा लगाता बढ़ता जा रहा है, जिससे लोगों में दहशत है. इन सबके बीच एक  फेक न्यूज़  और  से लोग डरे हुए हैं. सोशल मीडिया पर ऐसी कई खबरें चल रही हैं, जिसमें ये दावा किया जा रहा है कि दुनिया में बहुत जल्द बड़ी तबाही आएगी और 29 अप्रैल तक दुनिया खत्म हो जाएगी.

भारत समेत दुनिया भर के तमाम देश इस वक्त चीन से फैले कोरोना वायरस (Coronavirus) से जूझ रहे हैं. कोविड-19 से संक्रमण से मौत का आंकड़ा लगाता बढ़ता जा रहा है, जिससे लोगों में दहशत है. इन सबके बीच एक  फेक न्यूज़  और  से लोग डरे हुए हैं. सोशल मीडिया पर ऐसी कई खबरें चल रही हैं, जिसमें ये दावा किया जा रहा है कि दुनिया में बहुत जल्द बड़ी तबाही आएगी और 29 अप्रैल तक दुनिया खत्म हो जाएगी. कई यूजर्स इन खबरों के कुछ वीडियो भी शेयर कर रहे हैं, लेकिन हम आपको बता दें कि आप किसी तरह की अफवाहों पर बिल्कुल भी ध्यान दें. इन दावों में कोई सच्चाई नहीं है.  दरअसल, अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने हाल ही में एक सूचना जारी की थी. इसके मुताबिक, 29 अप्रैल 2020 तक एक विशाल उल्का पिंड (asteroid) पृथ्वी से होकर गुजरेगा, जिसका आकार हिमालय के आकार का आधा होगा. हालांकि, अब कुछ सोशल मीडिया यूजर्स इसे लेकर झूठे दावे कर रहे हैं और फेक न्यूज़ को बढ़ावा दे रहे हैं.   बेशक 29 अप्रैल को एक विशाल उल्का पिंड पृथ्वी से होकर गुजरेगा. नासा के मुताबिक करीब 2 हजार फुट क्षेत्रफल वाले जेओ 25 नाम का उल्का पिंड भूमि से 1.8 मिलियन किलो मीटर की दूर चला जाएगा. पिछले 400 वर्षों में या आने वाले 500 वर्षों में भूमि के इतनी करीब आने वाले उल्का पिंड और कोई नहीं है.

नासा का ये भी कहना है कि ये उल्का पिंड चांद से पृथ्वी के बीच की दूरी का करीब 4 गुना दूर चला जाएगा. ऐसे में इसे धरती को छूने वाली बात बिल्कुल झूठी है. इस उल्का पिंड से धरती को कोई खतरा नहीं होगा. इसलिए आप इन अफवाहों पर यकीन न करें.