वाराणसी - शहर दक्षिणी के सपा प्रत्याशी किशन दीक्षित लगातार जनसंपर्क कर लोगो को समाजवादी पार्टी से जोड़ने का कर रहे काम

उत्तरप्रदेश विधान सभा चुनाव शुरू हो चूका है कई जिलों में चुनाव हो भी चुके हैं और आखिरी चरण का चुनाव वाराणसी में है जिसकी तैयारी यहां पर जोरो शुरू से चालू है सभी पार्टियों ने अपने कैंडिडेट मैदान में उतार चुकी हैं | जो कि लगातार लोगों से जनसंपर्क कर रहे हैं इसी क्रम में समाजवादी पार्टी के दक्षिणी विधानसभा से प्रत्याशी किशन दीक्षित मैदान में उतरे हैं जो काफी मेहनत कर रहे हैं |

वाराणसी - शहर दक्षिणी के सपा प्रत्याशी किशन दीक्षित लगातार जनसंपर्क कर लोगो को समाजवादी पार्टी से जोड़ने का कर रहे काम

उत्तरप्रदेश विधान सभा चुनाव शुरू हो चूका है कई जिलों में चुनाव हो  भी चुके हैं और आखिरी चरण का चुनाव वाराणसी में है जिसकी तैयारी यहां पर जोरो  शुरू से चालू है सभी पार्टियों ने अपने कैंडिडेट मैदान में उतार चुकी हैं | जो कि लगातार लोगों से जनसंपर्क कर रहे हैं इसी क्रम में समाजवादी पार्टी के दक्षिणी विधानसभा से प्रत्याशी किशन दीक्षित मैदान में उतरे हैं जो काफी मेहनत कर रहे हैं | 

 

किसान दीक्षित रोज लोगों से मिल रहे हैं लगातार जनसंपर्क कर रहे हैं आपको बता दें किशन दीक्षित पर सपा ने ब्राह्मण और बंगाली समाज का बहुमूल्य सीट के रूप पर बड़ा दांव खेला है सपा को उम्मीद है विश्वनाथ कॉरिडोर बढ़ने से विस्थापित हुए परिवारों को उन्हें सपोर्ट मिलेगा साथ ही ममता बनर्जी के कारण कई बड़ी संख्या में रहने वाले बंगाली समाज का भी वोट उनको मिलेगा| 


 इसी क्रम में किसान दीक्षित लगातार शहर दक्षिणी में लोगों के बीच उतर रहे हैं उनकी समस्याओं को जान रहे हैं और सबका दिल भी जीत रहे हैं वाराणसी शहर के दक्षिणी के महामृत्युंजय महादेव मंदिर के महंत के किशन दीक्षित को ब्राह्मण समाज का वोट मिलने की पूरी संभावना है |  सपा पार्टी को भी पूरा यकीन है कि किशन दीक्षित की मेहनत रंग लाएगी और इस बार दक्षिणी विधानसभा से सपा उनकी ही जीत होगी अब यह तो वक्त बताएगा की किसकी जीत होती है जिसके नतीजे 10 मार्च को पता चल जाएंगे|