कल वाराणसी में वीआईपी और वीवीआईपी का पुरे दिन आवागमन था| वाराणसी | ZNDM NEWS |

कल वाराणसी में VIP और VVIP का पुरे दिन आवागमन था कल शहर में श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ,कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ,भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर,राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र और भी प्रमुख VIP लोग मौजूद थे | श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे अपने दो दिवसीय दौरे पर रविवार को वाराणसी पहुंचे। सुबह 10.10 बजे एयर इंडिया के विशेष विमान से वह लाल बहादुर शास्‍त्री अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पहुंचे जहां पर प्रोटोकाल के अनुसार प्रशासन ने उनकी आगवानी की। इस दौरान बुके देकर वाराणसी एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप ने उनका स्‍वागत किया। इस दौरान एयरपोर्ट परिसर में एडीजी, कमिश्‍नर, डीएम व एसएसपी ने भी उनका स्‍वागत किया। वहीं बाबतपुर एयरपोर्ट से निकलकर बाबा विश्वनाथ और कालभैरव के दर्शन-पूजन के लिए रवाना हो गए।

कल वाराणसी में VIP और VVIP का पुरे दिन आवागमन था कल शहर में श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ,कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा,  पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ,भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर,राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र और भी प्रमुख VIP लोग मौजूद थे | श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे अपने दो  दिवसीय दौरे पर रविवार को वाराणसी पहुंचे। सुबह 10.10 बजे एयर इंडिया के विशेष विमान से वह लाल बहादुर शास्‍त्री अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट पहुंचे जहां पर प्रोटोकाल के अनुसार प्रशासन ने उनकी आगवानी की। इस दौरान बुके देकर वाराणसी एयरपोर्ट निदेशक आकाशदीप ने उनका स्‍वागत किया। इस दौरान एयरपोर्ट परिसर में एडीजी, कमिश्‍नर, डीएम व एसएसपी ने भी उनका स्‍वागत किया। वहीं बाबतपुर एयरपोर्ट से निकलकर बाबा विश्वनाथ और कालभैरव के दर्शन-पूजन के लिए रवाना हो गए। इससे पूर्व बनारस आगमन पर एयरपोर्ट पर शंखवादन और मंगलाचरण से बटुकों ने उनका स्वागत किया तो अगवानी में कलाकारों ने कथक और शास्त्रीय नृत्य भी प्रस्तुत किए।
दोपहर बाद श्रीलंका के पीएम महिंद राजपक्ष के आगमन के मद्देनजर सारनाथ स्थित मूलगंध कुटीविहार, संग्रहालय और पुरातात्विक खंडहर परिसर में पर्यटकों का प्रवेश दो बजे से बंद कर दिया गया। सारनाथ पहुचे श्रीलंका के पीएम ने संग्रहालय में सारनाथ के प्राचीन वैभव को निहारा और वहां से चार बजे वापस निकले। इसके बाद उन्‍होंने पुरातात्विक खंडहर परिसर का किया। वहीं धम्मेख स्तूप के पास फोटो एल्बम देखकर सारनाथ के बारे में जानकारी ली।
कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा भी रविवार दोपहर वाराणसी पहुंचीं। एयरपोर्ट से निकलकर सीर गोवर्धन स्थित संत रविदास मंदिर में जयंती पर्व के मौके पर मत्था टेका और वहां आयोजित धार्मिक आयोजनों में शिरकत किया। प्रियंका के इस दौरे को गैर राजनीतिक बताया जा रहा है लेकिन राजनीति के जानकार यह मान रहे हैं कि वह जनाधार की मजबूत जड़ों को सींचने की कोशिश कर रही हैं।लंगर हाल में प्रियंका कार्यकताओं के साथ लंगर छकने के बाद सत्संग पंडाल की तरफ रवाना हुईं तो संत निरंजनदास से आशीर्वाद लिया इसके बाद दोपहर बाद वह बाबतपुर एयरपोर्ट पर कांग्रेस पदाधिकारियों से मुलकात के बाद नई दिल्‍ली रवाना हो गईं।
इसके साथ ही पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने भी कल राजघाट स्थित संत रविदास मंदिर में चादर चढ़ाकर पूजा अर्चना की। इस दौरान उन्‍होंने छोटे बच्चों को लंगर का प्रसाद भी वितरित किया। उजास पुस्तक का विमोचन कर प्रसंगों के माध्यम से संत रविदास को याद किया।
 इसी कड़ी में रविवार की दोपहर भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने भी मंदिर में दर्शन पूजन किया
चंद्रशेखर ने इस दौरान देश के युवाओं के बारे बताया कि जिस तरह से बड़ी संख्या में युवा मेले में शिरकत कर रहे हैं, ऐसा लग रहा है वे भी अब खुली आंखों से समाज और राजनीति को देख रहे हैं। वहीं वाराणसी में संत रविदास को नमन करने के साथ ही उन्‍हाेंने अपने समर्थकों से भी मुलाकात की। इस दौरान भीम आर्मी के प्रमुख ने दोपहर में सीर गोवर्धन स्थित संत रविदास मंदिर में मत्‍था टेका और प्रसाद संग लंगर भी छका।
नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर चंद्रशेखऱ ने कहा कि यूपी में इस कानून के विरोध में हम बड़ा आंदोलन करेंगे। शाहीन बाग मुद्दे पर उन्होंने कहा कि वहां प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा में उनकी टीम लगी हुई है। दिल्ली चुनाव के संबंध में उन्होंने कहा कि यदि ईवीएम से छेड़छाड़ न हुई तो वहां भाजपा बुरी तरह हार रही है। इसके साथ ही  उन्होंने यूपी सरकार पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 के विधानसभा चुनाव में यहां बदलाव होगा।
राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्रा भी कल वाराणसी में मौजूद थे । इस दौरान उन्होंने पूर्वांचल के खेल प्रेमियों के लिए इंडोर स्टेडियम की सौगात दी। राज्यपाल ने आरएसएस के वरिष्ठ प्रचारक पी परमेश्वरन के निधन पर श्रद्धांजलि दी।
डीएवी पीजी कॉलेज परिसर में करीब 2 करोड़ की लागत से बने उच्चीकृत इंडोर स्टेडियम का उदघाटन कर राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने इसे युवा खिलाड़ियों को समर्पित किया। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ सत्यदेव सिंह ने बताया कि पूर्वांचल के खिलाड़ियों को अब खेलों में बेहतरी के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरह से फिट इंडिया मुहिम छेड़ी है, हमारा यह प्रयास उसी मुहिम को और मजबूती प्रदान करने वाला है। 500 दर्शकों के बैठने की क्षमता वाले इस स्टेडियम में एक अत्याधुनिक जिम, बैडमिंटन कोर्ट, टेबल टेनिस, कुश्ती एवं कबड्डी खेलों की व्यवस्था की गई है। इसके अलावा अन्य इनडोर खेल भी यहां आयोजित किए जा सकेंगे