इस साल होगी रिकॉर्ड तोड़ गर्मी मौसम विभाग का अंदाजा, कई शहरों में पारा 40 के पार हुआ

इस साल के शुरुवात में ही गर्मी का आलम ये है की लग रहा है की मई जून का महीना हो | ये मार्च महीने की शुरुवात और अभी से कई शहरों में पारा 40 के पार पहुंच गया है |

इस साल होगी रिकॉर्ड तोड़ गर्मी मौसम विभाग का अंदाजा, कई शहरों में पारा 40 के पार हुआ

इस साल के शुरुवात में ही गर्मी का आलम ये है की लग रहा है की मई जून का महीना हो | ये मार्च महीने की शुरुवात और अभी से कई शहरों में पारा 40 के पार पहुंच गया है |  मार्च शुरू होते ही मौसम विभाग ने गर्मी के मौसम का अनुमान भी जारी किया। बताया जा रहा है की मार्च से मई के दौरान भारत के उत्तर, उत्तर पूर्व, पूर्व और पश्चिम के कुछ हिस्सों में इस साल सामान्य से ज्यादा गर्मी पड़ सकती है। वहीं, दक्षिण और मध्य भारत में सामान्य से कम गर्मी पड़ने का अनुमान जताया गया। मार्च का पहला हफ्ता बीतते-बीतते एक ओर जहां देश के कुछ इलाकों में पारा 40 तक पहुंच गया है, वहीं हिमाचल और उसके आसपास के इलाकों में मौसम ने पलटी मारी है और यहां अगले कुछ दिन हल्की बारिश के आसार जताए जा रहे हैं। दिल्ली और पुणे IMD समेत ज्यादातर मौसम विज्ञान केंद्रों ने उत्तर, उत्तर पूर्व और उत्तर पश्चिम भारत में इस साल मार्च, अप्रैल और मई के महीने में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने का अनुमान जताया है। वहीं, उत्तर के अधिकांश राज्यों में अगले तीन महीने न्यूनतम तापमान भी सामान्य से अधिक रहने के आसार हैं।

 

हालांकि, दक्षिण और मध्य भारत के अधिकांश राज्यों में रात का तापमान सामान्य रहेगा। इन राज्यों में अगले तीन महीने न्यूनतम तापमान सामान्य या सामान्य से कम रहने के आसार हैं।

 

IMD ने फरवरी के तापमान को देखते हुए अगले तीन महीने के मौसम का अनुमान जारी किया है। हालांकि, अप्रैल की शुरुआत में IMD इन तीन महीनों के मौसम के अनुमान को एक बार फिर से अपडेट करेगा। IMD के महानिदेशक डॉक्टर मृत्युंजय महापात्रा कहते हैं कि ऐसा अभी से नहीं बताया जा सकता है। जिन इलाकों में अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने का अनुमान है, वहां हीट वेव ज्यादा चलेंगी। वहीं जिन इलाकों में अधिकतम तापमान सामान्य से कम रहने का अनुमान है वहां या तो हीट वेव नहीं चलेंगी या उनकी इंटेंसिटी और फ्रीक्वेंसी काफी कम रहेगी।