केंद्रीय कारागार का निरक्षण कर राज्यपाल ने बृद्ध कैदियों को मुहैया करवाई सुविधा

वाराणसी में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल आज सुबह ही शिवपुर केंद्रीय करागार पहुंची और आवश्यक औचीक निरक्षण किया और अधिकारियो से बात की | केंद्रीय कारागार में स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के स्मृति स्तम्भ के बारे में जेल अधीक्षक द्वारा राज्यपाल को जानकारी दी गई।

केंद्रीय कारागार का निरक्षण कर राज्यपाल ने बृद्ध कैदियों को मुहैया करवाई सुविधा

वाराणसी में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल आज सुबह ही शिवपुर केंद्रीय करागार पहुंची और आवश्यक औचीक निरक्षण किया और अधिकारियो से बात की | केंद्रीय कारागार में स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के स्मृति स्तम्भ के बारे में जेल अधीक्षक द्वारा राज्यपाल को जानकारी दी गई। इस दौरान उन्होंने केन्द्रीय कारागार में स्थापित शहीद चन्द्रशेखर आज़ाद की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किये। कारगर में भ्रमण के दौरान जेल के कैदियों से भी मुलाकात की और विभिन्न विधा में निपुण कारीगरों के उत्पाद का अवलोकन किया।

 

कारागार में अधिकारियो से बात चित के दौरान राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के पूछे जाने पर कि इस केंद्रीय कारागार में वृद्ध और बीमार कैदियों को यदि जेल से बाहर किसी कारण से ले जाना हो तो बैरक से जेल के मुख्य द्वार तक कैसे लाया जाता है। इस पर जेल अधीक्षक ने कहा की ब्यक्ति को बैरक से पैदल ही लाया जाता है जिसके बाद राज्यपाल ने आदेश देते हुवे कहा कि जेल में दो ई-रिक्शा की व्यवस्था की जाय जो राजभवन के व्यय भार पर इस कार्य में उपयोग किये जायेंगे। जेल में स्थित गौशाला के निरीक्षण के दौरान उन्होंने गायों को केले और गुड़ आदि खिलाया और स्नेहिल स्पर्श दिया।बेकरी के उत्पाद, फर्नीचर में गवर्नर चेयर, तौलिया गमछा के साथ साथ कैदियों द्वारा उत्पादित सब्जियां आदि को भी देखा।