Gorakhpur News: गोरखपुर में वर्दी वाले बने लुटेरे कारोबारियों से की लूट

बस्ती जिले के पुराना बस्ती थाना में तैनात एक दरोगा और दोनों सिपाहियों से पुलिस ने नगदी और सोना बरामद कर लिया है। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ एनएसए और गैंगस्टर की कार्रवाई होगी। आरोपियों की बर्खास्तगी के लिए अधिकारियों को लिखा जा रहा है।

Gorakhpur News: गोरखपुर में वर्दी वाले बने लुटेरे कारोबारियों से की लूट

बस्ती जिले के पुराना बस्ती थाना में तैनात एक दरोगा और दोनों सिपाहियों से पुलिस ने नगदी और सोना बरामद कर लिया है। एसएसपी ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ एनएसए और गैंगस्टर की कार्रवाई होगी। आरोपियों की बर्खास्तगी के लिए अधिकारियों को लिखा जा रहा है।

महाराजगंज के निचलौल कस्बा से लखनऊ की तरफ जा रहे दो सराफा कारोबारियों दीपक वर्मा और रामू वर्मा को बुधवार सुबह वर्दीधारी बदमाशों ने चेकिंग के बहाने बस स्टेशन में बस से उतारकर रुपये और सोना लूट लिया था। व्यापारी शिकायत लेकर पहुंचे तो पहले पुलिसवालों ने मामले को दबाने की कोशिश की।

बाद में अफसरों के कड़े तेवर के बाद पुलिस सक्रिय हुई और सीसीटीवी की मदद से पहले बोलेरो की तलाश शुरू हुई। फुटेज के जरिए एक बोलेरो के बारे में जानकारी हुई जो कि बस्ती की निकली। बोलेरो के नंबर के जरिए पुलिस को पता लगा कि बस्ती जिले के पुराना बस्ती थाने में तैनात दरोगा धर्मेंद्र यादव, सिपाही महेन्द्र यादव और संतोष यादव गाड़ी लेकर गए थे। इस सूचना के बाद गोरखपुर पुलिस की एक टीम बस्ती रवाना हुई।

पुलिस ने पहले बोलेरो के ड्राइवर देवेंद्र यादव को दबोचा। ड्राइवर ने बताया कि साहब लोगों उसे लेकर गोरखपुर गए थे। उन्होंने बताया था कि दबिश में एक बदमाश को पकड़ना है। गोरखपुर की पुलिस टीम ने दरोगा धर्मेंद्र यादव और दोनों सिपाहियों को दबोच लिया। कड़ी पूछताछ के बाद पुलिस वालों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। एसएसपी जोगेन्द्र कुमार ने बताया कि उनके पास से लूट की रकम और सोना बरामद कर लिया गया है।

एसएसपी ने बताया कि 30 दिसंबर को शाहपुर इलाके में एक अन्य सर्राफ से हुई लूट भी इन्हीं आरोपितों ने की थी। उस घटना में दरोगा के अलावा एक अन्य सिपाही और यही बोलेरो चालक शामिल था। उस घटना में लूटी गई चांदी के गहने पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। खुलासा करने वाली टीम को एसएसपी ने 25 हजार रुपये पुरस्कार देने की घोषणा की।