दिल्ली हाईकोर्ट ने Google के खिलाफ CCI जांच पर रोक लगाने से किया इनकार

दिल्ली हाईकोर्ट ने Google के एंड्रॉइड स्मार्टफोन समझौतों की भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI) की जांच पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। CCI के महानिदेशक द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट की एक प्रति मांगी है। हाईकोर्ट ने गोपनीय जानकारी के लीक होने का आरोप लगाने वाली Google की याचिका पर सुनवाई 27 सितंबर के लिए स्थगित कर दी।

दिल्ली हाईकोर्ट ने Google के खिलाफ CCI जांच पर रोक लगाने से किया इनकार

दिल्ली हाईकोर्ट ने Google के एंड्रॉइड स्मार्टफोन समझौतों की भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CCI) की जांच पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है। CCI के महानिदेशक द्वारा तैयार की गई रिपोर्ट की एक प्रति मांगी है। हाईकोर्ट ने गोपनीय जानकारी के लीक होने का आरोप लगाने वाली Google की याचिका पर सुनवाई 27 सितंबर के लिए स्थगित कर दी।

 

 

Google की तरफ से गुरुवार को दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दाखिल की गई है। दरअसल Google का कहना है कि भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (CII) की एक कॉन्फिडेंशियल रिपोर्ट लीक हो गई है, जिसमें टेक कंपनी के खिलाफ एंड्राइड स्मार्टफोन को लेकर जांच चल रही थी। टेक कंपनी का कहना है कि रिपोर्ट पूरी तरह से कॉन्फिडेंशियल थी। इसे किसी ने रिसीव भी नहीं किया है। और ना ही इसका रिव्यू किया गया है। ऐसे में यह रिपोर्ट लीक कैसे हो गयी, जो कि CII की हिफाजत में थी। Google ने दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कहा कि रिपोर्ट का लीक होना भरोसे का उल्लंघन है, जो उसकी डिफेंड कैपेसिटी को कम करता है और इसे और इसके पार्टनर्स को नुकसान पहुंचाता है।

 

 

 

पिछले हफ्ते रिपोर्ट आयी थी कि CCI की जांच में Google को एंड्राइड से जुड़े मामलों में गलत कारोबारी गतिविधियों का दोषी पाया गया है। साल 2019 की शुरुआत में एक रिपोर्ट आयी थी, जिसमें पहली नजर में ऐसा मालूम होता था कि CII की जांच में Google को प्रतिस्पर्धी कारोबारी नियमों के उल्लंघन का दोषी करार दिया गया है। ऐसे में Google के खिलाफ डिटेल जांच के आदेश दिये गये थे।