बनारस में सिस वरुणा पेयजल योजना को जल्द मिलेगी संजीवनी,हर घर पहुंचेगा गंगा जल

वाराणसी में अब जल्द ही सिस वरुणा पेयजल परियोजना के लिए प्रस्तावित 121 करोड़ के दो प्रोजेक्ट्स में 114 करोड़ का बजट निर्गत होने की संभावना अब बढ़ गई है। दरसअल इस वक्त सिस वरुणा पेयजल परियोजना धांधली से दम तोड़ रही है बतादे इस बजट से पेयजल योजना के डैमेज पाइप, लीकेज, गड़बड़ बूस्टर व पंप आदि दुरुस्त किया जा राह है|

बनारस में सिस वरुणा पेयजल योजना को जल्द मिलेगी संजीवनी,हर घर पहुंचेगा गंगा जल

वाराणसी में अब जल्द ही सिस वरुणा पेयजल परियोजना के लिए प्रस्तावित 121 करोड़ के दो प्रोजेक्ट्स में 114 करोड़ का बजट निर्गत होने की संभावना  अब बढ़ गई है। दरसअल इस वक्त सिस वरुणा पेयजल परियोजना धांधली से दम तोड़ रही है  बतादे इस बजट से पेयजल योजना के डैमेज पाइप, लीकेज, गड़बड़ बूस्टर व पंप आदि दुरुस्त किया जा राह है।बनारस के 50 हजार नए कनेक्शन व एक लाख 58 हजार घरों में वाटर मीटर लगाने के लिए करीब 111 करोड़ रुपये का बजट तय हुआ। और इस परियोजना में पहले ही सात करोड़ का प्रोजेक्ट स्वीकृत हो चुका है।

बतादे तीनों परियोजनाओं का अनुमानित बजट करीब 700 करोड़ रुपये था। और इस परियोजना को अच्छी तरह से लागू करने  के लिए शहर को दो हिस्सों में बांटा गया। जिसमे वरुणापार इलाके को ट्रांस वरुणा और सिस वरुणा का नाम दिया गया। सिस वरुणा के लिए करीब 227 करोड़ रुपये का बजट निर्धारित हुआ ट्रांस वरुणा के लिए करीब 209 करोड़ रुपये है । ये ट्रांस व सिस वरुणा की परियोजना आज की नहीं हैये परियोजना वर्ष 2010 में प्रारंभ हो गई थी |

इस नगरीय पेयजल परियोजना में कई विंदुवो शामिल है जिसमे 03 चरणों में बना प्रोजेक्ट,1000 करोड़ की लागत,100 एमएलडी का सारनाथ में वाटर ट्रीटमेंट प्लांट,17 ओवरहेड टंकियां शहर में,32 ओवरहेड टंकियां वरुणापार प्रोजेक्ट शामिल है |  गंगा जल स्रोत से नगर में प्राथमिकता वाली तीन परियोजनाएं बनाई गईं जिसकी स्वीकृति अक्टूबर 2008 में मिली।