गणतंत्र दिवस पर किसान कृषि बिल के विरोध में करेंगे ट्रैक्टर रैली,सरकार की पूरी तैयारी हाई अलर्ट पर बॉर्डर

ट्रैक्टर परेड के लिए सोमवार को बड़ी संख्या में किसान दिल्ली रवाना होंगे। पुलिस प्रशासन ने भी अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। गणतंत्र दिवस पर पहली बार किसान किसी मुददे पर विरोध जताते हुए राष्ट्रीय पर्व अपने अंदाज में मनाएंगे। भाकियू और संबंधित 16 किसान संगठनों के आह्वान पर सोमवार को किसानों का रेला दिल्ली की ओर बढ़ेगा।

गणतंत्र दिवस पर किसान कृषि बिल के विरोध में करेंगे ट्रैक्टर रैली,सरकार की पूरी तैयारी हाई अलर्ट पर बॉर्डर

ट्रैक्टर परेड के लिए सोमवार को बड़ी संख्या में किसान दिल्ली रवाना होंगे। पुलिस प्रशासन ने भी अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देना शुरू कर दिया है। गणतंत्र दिवस पर पहली बार किसान किसी मुददे पर विरोध जताते हुए राष्ट्रीय पर्व अपने अंदाज में मनाएंगे। भाकियू और संबंधित 16 किसान संगठनों के आह्वान पर सोमवार को किसानों का रेला दिल्ली की ओर बढ़ेगा। इसके लिए दिल्ली की सीमाओं पर हाई अलर्ट किया गया है।दिल्ली में 26 जनवरी को होने वाली ट्रैक्टर परेड के लिए किसानों के दिल्ली जाने का सिलसिला रविवार को भी जारी रहा। इसके साथ ही किसान सोमवार को दिल्ली कूच की तैयारी में जोश के साथ जुटे हैं। यूपी में मेरठ, सहारनपुर, बरेली, मुरादाबाद मंडल से किसानों के दिल्ली कूच का सिलसिला जारी रहा। जबकि आगरा में किसानों ने यमुना एक्सप्रेस वे पर पैदल मार्च निकाल कर जाम लगाया।

वेस्ट यूपी के किसान सोमवार को बड़ी संख्या में दिल्ली पहुचेंगे। दूसरी ओर पुलिस प्रशासन भी अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है। दिल्ली से सटी सीमाओं को अलर्ट करते हुए सुरक्षा बढ़ा दी है। सोमवार को मुख्यमंत्री के नोएडा दौरे को लेकर अधिकारी विशेष सतर्कता बरत रहे हैं| 

मेरठ की सात सीमाओं पर पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे लगवाए हैं। एसएसपी अजय साहनी के अनुसार, दिल्ली की तरफ आने और जाने वाले वाहनों पर नजर रखी जा रही है। सभी बॉर्डर पर बैरीकेडिंग की गई है। 24 घंटे पुलिस बल तैनात रहेगा। किसानों के वाहनों को चेक करने के बाद ही आगे बढ़ने दिया जा रहा है। मेरठ-बुलंदशहर हाईवे पर खरखौदा, मेरठ-दिल्ली हाईवे पर मोहिद्दीनपुर, मुरादनगर-खतौली गंगनहर पटरी पर जानी नहर पुल, दिल्ली-दून हाईवे पर दादरी, मेरठ-गढ़मुक्तेश्वर हाईवे पर शाहजहांपुर, मेरठ-करनाल हाईवे पर सरूरपुर भूनी चौराहा और मेरठ-बिजनौर मार्ग पर रामराज के आसपास सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। रविवार को करीब 200 ट्रैक्टर दिल्ली के लिए रवाना हुए।

उधर, मेरठ-सहारनपुर मंडल के जो किसान दिल्ली नहीं जा पाएंगे वो गांव और जिलों में ट्रैक्टर परेड करेंगे। कमिश्नर, एडीजी और आईजी बॉर्डर पर डटे हैं। रालोद 25 जनवरी को रैली निकालेगा, जबकि 26 को सपा तहसीलों पर और अन्य किसान संगठन जिले में यात्रा निकालेंगी। भाकियू के एनसीआर महासचिव मांगे राम त्यागी ने बताया कि 25 जनवरी की शाम तक 800 ट्रैक्टर दिल्ली जाएंगे। शामली जनपद से 25 जनवरी को 300 ट्रैक्टर दिल्ली के लिए रवाना होने का लक्ष्य रखा गया है। हापुड़ से सोमवार शाम को किसान दिल्ली जाएंगे।