उज्जैन में TNPC Department के कर्मचारियों के यहां लगातार हो रही है Raid, आय से अधिक संपत्ति होने का मामला हुआ है दर्ज़

आर्थिक अपराध शाखा (EOW) उज्जैन (Ujjain) ने आज बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया. टीम ने देवास (Devas) टीएनसीपी विभाग (TNPC Department) में पदस्थ एक मानचित्रकार विजय दरियानी के ठिकानों पर छापे मार कार्रवाई की (Raid). जांच में अबतक तीन लक्जरी कार, एक लाख चालीस हजार नगद समेत कई अहम दस्तावेज जब्त किए.आरोपी टीएनसीपी देवास में ड्राफ्टमैन हैं।

उज्जैन में TNPC Department के कर्मचारियों के यहां लगातार हो रही है Raid, आय से अधिक संपत्ति होने का मामला हुआ है दर्ज़

 

आर्थिक अपराध शाखा (EOW) उज्जैन (Ujjain) ने आज बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया. टीम ने देवास  (Devas) टीएनसीपी विभाग (TNPC Department) में पदस्थ एक मानचित्रकार विजय दरियानी के ठिकानों पर छापे मार कार्रवाई की (Raid). जांच में अबतक तीन लक्जरी कार, एक लाख चालीस हजार नगद समेत कई अहम दस्तावेज जब्त किए.आरोपी टीएनसीपी देवास में ड्राफ्टमैन हैं। इंदौर में उनके विभिन्न स्थानों पर हम तलाशी कर रहे हैं। 5 अलग-अलग स्थानों पर हमने तलाशी की है। इनकी काफी स्थाई और अस्थाई संपत्ति और नकद मिला है दिलीप सोनी, एसपी EOW उज्जैन ने कहा | 

 


विजय दरियानी (Vijay Dariyani) के इंदौर (Indore) में आशीष नगर स्थित घर के अलावा गुरुकृपा रिजेंसी,कल्पना लोक में फ्लैट और माउंटबर्ग कॉलोनी के घर पर भी छापा मारा गया है. बताया गया कि आय से अधिक संपत्ति के मामले में EOW को गोपनीय जानकारी मिली थी जिसके आधार पर आज एक साथ उनके इंदौर देवास रोड उज्जैन सहित कई ठिकानों पर कार्रवाई की गई.

 

 

 

इसके अलावा अब तक की जांच में तीन लक्जरी कार, एक लाख चालीस हजार नगद समेत कई अहम दस्तावेजों की फाइल जप्त की गई है. विजय दरियानी पहले इंदौर में पदस्थ थे. लेकिन पिछले पांच सालों से देवास टीएनसीपी विभाग में ट्रैसर के तौर पर अपनी सेवा दे रहे हैं. टीम ने प्रारंभिक जांच में ही संपत्ति और घर में बड़ी मात्रा में विदेशी शराब ऐशो आराम के कई साधन, झूम मॉल में एक दुकान, नायता मुंडला में 4000 फीट का प्लॉट ,बंगले पर एक दुकान सहित भारी गड़बड़ी पकड़ी थी.

 

 

 

जांच में हुआ साफ, अवैध तरीके से की गई संपत्ती अर्जीत

EOW उज्जैन के एसपी दिलीप सोनी (EOW SP Dilip Soni)  ने बताया कि विजय दरियानी का अधिकत्तम वेतन 50 हजार है. लेकिन दरियानी के पास आय से कहीं ज्यादा संपत्ती है. जिसकी जांच की जा रही है. पुलिस अधिकारियों के मुताबिक शुरुवात में कई साक्ष्य मिले है. जिससे साबित होता है, कि विजय ने अवैध तरीके से संपत्ती अर्जीत है. इंदौर के ठिकानों के अलावा देवास में भी टीम ने टीएनसीपी दफ्तर से कई अहम दस्तावेज जप्त किए है.