किसान आंदोलन -ग्रेटा थनबर्ग की मुश्किल बढ़ी दिल्ली पुलिस ने किया FIR

कल कई ग्लोबल सेलिब्रिटी ने भारत चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया जिसमे पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन की दिशा में काम करने वाली ग्रेटा थनबर्ग का ट्वीट अब उन्हें मुश्किल में डाल सकता है| इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने ग्रेटा थनबर्ग पर एफआईआर दर्ज की है. दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने सेक्शन 153A और 120B के तहत यह केस दर्ज किया है|

किसान आंदोलन -ग्रेटा थनबर्ग की मुश्किल बढ़ी दिल्ली पुलिस ने किया FIR

कल कई ग्लोबल सेलिब्रिटी ने भारत चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट किया जिसमे  पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन की दिशा में काम करने वाली ग्रेटा थनबर्ग का ट्वीट अब उन्हें  मुश्किल में डाल सकता है| इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने ग्रेटा थनबर्ग पर एफआईआर दर्ज की है. दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने सेक्शन 153A और 120B के तहत यह केस दर्ज किया है| 

दरअसल, ग्रेटा थनबर्ग ने किसानों के प्रदर्शन के समर्थन में ट्वीट किया था. इस ट्वीट में उन्होंने लिखा था, 'हम भारत में किसानों के आंदोलन के प्रति एकजुट हैं.' इसके साथ ही उन्होंने दूसरे ट्वीट में एक डॉक्यूमेंट शेयर किया, जिसमें भारत सरकार पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाने की कार्ययोजना साझा की गई थी और पांच चरणों में दबाव बनाने की बात कही गई. हालांकि बात में उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया| 

पुराने ट्वीट को हटाने के बाद ग्रेटा थनबर्ग ने एक नया ट्वीट किया और अपडेटेड टूलकिट शेयर किया है. नए टूलकिट में कई बदलाव किए गए हैं और 26 जनवरी को भारत समेत विदेशों में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन का प्लान हटा दिया गया है. उन्होंने कहा, 'यदि आप मदद करना चाहते हैं, तो यह अपडेटेड टूलकिट है. अपना पिछला डॉक्यूमेंट हटा दिया, क्योंकि यह पुराना था.'  सेलिब्रिटीज भारत चल रहे भारत में कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन को लेकर पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन की दिशा में काम करने वाली ग्रेटा थनबर्ग का ट्वीट उन्हें मुश्किल में डाल दिया है. इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने ग्रेटा थनबर्ग पर एफआईआर दर्ज की है. दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने सेक्शन 153A और 120B के तहत यह केस दर्ज किया है| 

दरअसल, ग्रेटा थनबर्ग ने किसानों के प्रदर्शन के समर्थन में ट्वीट किया था. इस ट्वीट में उन्होंने लिखा था, 'हम भारत में किसानों के आंदोलन के प्रति एकजुट हैं.' इसके साथ ही उन्होंने दूसरे ट्वीट में एक डॉक्यूमेंट शेयर किया, जिसमें भारत सरकार पर अंतरराष्ट्रीय दबाव बनाने की कार्ययोजना साझा की गई थी और पांच चरणों में दबाव बनाने की बात कही गई. हालांकि बात में उन्होंने अपना ट्वीट डिलीट कर दिया| 

पुराने ट्वीट को हटाने के बाद ग्रेटा थनबर्ग ने एक नया ट्वीट किया और अपडेटेड टूलकिट शेयर किया है. नए टूलकिट में कई बदलाव किए गए हैं और 26 जनवरी को भारत समेत विदेशों में बड़े पैमाने पर प्रदर्शन का प्लान हटा दिया गया है. उन्होंने कहा, 'यदि आप मदद करना चाहते हैं, तो यह अपडेटेड टूलकिट है. अपना पिछला डॉक्यूमेंट हटा दिया, क्योंकि यह पुराना था|