दिल्ली में लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर केंद्र की चिंताए बढ़ी

दिल्ली में लगातार दुगुनी तेज़ी से कोरोना के बढ़ते मामलों ने दिल्ली सरकार से लेकर केंद्र तक सभी की चिंता बढ़ा दी है।वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को COVID-19 मामलों में लगातार इजाफा होने की जानकारी साँझा की।साथ ही उन्होंने कहा कि हम इसे COVID मामलों की तीसरी लहर कह सकते हैं। हम स्थिति की निगरानी कर रहे हैं और सभी आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

दिल्ली में लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों को देखकर केंद्र की चिंताए बढ़ी

राजधानी दिल्ली में Covid-19 के तीसरी स्टेज की दस्तक

राजधानी दिल्ली में मंगलवार को अब तक के सर्वाधिक रिकॉर्ड 6,725 नए मामले सामने आने के बाद यहां संक्रमितों की संख्या चार लाख के पार पहुंच गई है। दिल्ली में पहली बार कोविड-19 के 6,000 से अधिक नए मामले सामने आए हैं। इसके पहले शुक्रवार को दिल्ली में संक्रमण के 5,891 नए मामले सामने आए थे।


दिल्ली में लगातार दुगुनी तेज़ी से कोरोना के बढ़ते मामलों ने दिल्ली सरकार से लेकर केंद्र तक सभी की चिंता बढ़ा दी है।वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को COVID-19 मामलों में लगातार इजाफा होने की जानकारी साँझा की।साथ ही उन्होंने कहा कि हम इसे COVID मामलों की तीसरी लहर कह सकते हैं। हम स्थिति की निगरानी कर रहे हैं और सभी आवश्यक कार्रवाई करेंगे।

वहीं, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि COVID-19 के कारण दिल्ली में लगभग 6,800 बेड्स भरे हुए हैं, जबकि 9,000 बेड्स खाली हैं। हम इसे COVID-19 मामलों की तीसरी लहर कह सकते हैं, लेकिन हमने पिछले 15 दिनों में टेस्ट बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित किया है, इसलिए बढ़ोतरी के लिए इसे भी जिम्मेदार ठहराया जा सकता है।जैन ने कहा कि हमने निजी अस्पतालों में 80% आईसीयू बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व किए थे, जिसे दिल्ली हाईकोर्ट ने रोक दिया था। इसके लिए अब हम सुप्रीम कोर्ट जा रहे हैं। हम सुप्रीम कोर्ट से इस फैसले को पलटने की मांग करेंगे।  

बता दें कि मुख्या मंत्री केजरीवाल ने बुधवार को पराली को गलाने के लिए बनाए गए डी-कंपोजर को लेकर हीरांकि गांव का दौरा किया और छिड़काव के बाद स्थिति की समीक्षा की।दिल्ली सरकार द्वारा जारी नए आंकड़ों के अनुसार ,राजधानी में संक्रमण के कारण 48 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 6,652 हो गई। सोमवार को 59540 नमूनों की जांच के बाद 6,725 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई और संक्रमित होने की दर बढ़कर 11.29 प्रतिशत हो गई।

हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, दिल्ली में फिलहाल 36,375 मरीजों का इलाज चल रहा है।वहीं रविवार तक लगातार पांच दिनों तक संक्रमण के 5,000 से अधिक नए मामले सामने आ रहे थे, जबकि सोमवार को संक्रमण के 4,001 नए मरीज सामने आए। त्योहारों के इस मौसम में लोगों की आवाजाही बढ़ने के कारण संक्रमण के मामलों में भी बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। दिल्ली में संक्रमण के कुल मामलों का आंकड़ा 4,03,096 पहुंच चुका है।