CORONA की वजह से बाबा विश्वनाथ में बहुत ही कम दिखे श्रद्धालु | VARANASI NEWS | ZNDM NEWS

आज सावन के पावन अवसर पर काशी विश्वनाथ के दरबार में अब तक 500 श्रद्धालुओं ने हाजिरी लगाई हैं। हम आपको बता दें कि इस पवित्र महीने में काशी में बाबा विश्वनाथ के दरबार में लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ लगती थी यहाँ सिर्फ बनारस के ही लोग नहीं बल्कि बाहर दूसरे राज्यों से तथा दूसरे देशों से भी लोग यहां पर बाबा के दर्शन के लिए आते रहते थे।

आज सावन के पावन अवसर पर काशी विश्वनाथ के दरबार में अब तक 500 श्रद्धालुओं ने हाजिरी लगाई हैं। हम आपको बता दें कि इस पवित्र महीने में काशी में बाबा विश्वनाथ के दरबार में लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ लगती थी यहाँ सिर्फ बनारस के ही लोग नहीं बल्कि बाहर दूसरे राज्यों से तथा दूसरे देशों से भी लोग यहां पर बाबा के दर्शन के लिए आते रहते थे। लेकिन कोरोना की वजह से इस बार ऐसा कुछ नहीं था ।हर बार लोगों का हुजूम दिखता था आज सुबह से भीड़ तो हुई लेकिन लोगों के हुजूम नहीं दिखाई पड़े। इस बार भक्तों के लिए सावन का सोमवार खास है। दरसअल इस बार भक्तों को पांचों सोमवार का लाभ मिलेगा यानी की इसबार शुरुआत सोमवार से हो रहा है और समापन भी सोमवार से होगा ।बता दे बाबा विश्वनाथ के दरबार में भक्तों के लिए उचित व्यवस्था की गई है। भक्तों के लिए बैरिकेडिंग के अंदर ही रेड कॉर्पोरेट बिछा दिए गए हैं। थर्मल स्कैनिंग की व्यवस्था की गई है । इसके साथ ही गंगा के घाटों पर तैनात की गई है ताकि लोग वहां पर भीड़ इकट्ठा ना कर पाए और ना ही गंगा स्नान किया जा सके । ध्यान रखा जा रहा है कि लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें श्रद्धालुओं के आगमन को देखते मंदिर परिसर के अंदर बैरिकेडिंग बना करके उसमें रेट कॉर्पोरेट बिछाया गया है हुए प्रशासन की ओर से कराया गया है अंदर सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिए गोल घेरे बनाए गए हैं ताकि लोग आसानी से इस नियम का पालन कर सकें। मंदिर में प्रवेश के लिए भी मंदिर प्रशासन की ओर से तीन अलग-अलग मार्ग तैयार किए गए हैं ताकि भीड़ ना हो। इस बार सिर्फ शिव भक्तों को बाबा का झांकी दर्शन ही मिल रहा है इस पर दर्शन इस वक्त पूरी तरह से प्रतिबंध है ।बता दें कोरोना की वजह से इस बार पूरी तरह से सावधानी बरती जा रही है शहर के हर देवालय पर पुलिस फोर्स तैनात की गई है ताकि भीड़ इकट्ठा ना हो।