कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी को मिली अंतरिम जमानत,हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाने का लगा था आरोप

हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाने के आरोप में गिरफ्तार किए गए स्टैंड अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी को सुप्रीम कोर्ट ने अंतरिम जमानत प्रदान कर दी है| सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश पुलिस को नोटिस जारी कर इस मामले में जवाब भी मांगा है|

कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी को मिली अंतरिम जमानत,हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाने का लगा था आरोप

हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाने के आरोप में गिरफ्तार किए गए स्टैंड अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी को सुप्रीम कोर्ट ने अंतरिम जमानत प्रदान कर दी है|  सुप्रीम कोर्ट ने मध्य प्रदेश पुलिस को नोटिस जारी कर इस मामले में जवाब भी मांगा है|  
जस्टिस आर एफ नरीमन  और जस्टिस बी आर गवई ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शुक्रवार को मामले की सुनवाई की| कोर्ट  ने फारूकी के खिलाफ उत्तर प्रदेश में दर्ज मुकदमे के लिए जारी प्रॉडक्शन वारंट पर स्टे कर दिया. बता दें कि मुनव्वर फारूकी ने मध्य प्रदेश के इंदौर में नए साल पर एक कैफे में आयोजित हुए कॉमेडी शो में हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाया था| 

उस दौरान बीजेपी नेता के पुत्र भी कार्यक्रम में मौजूद थे| उन्होंने मंच पर जाकर मुनव्वर फारूकी की इस हरकत का विरोध जताया और फोन करके पुलिस से शिकायत की. इसके बाद पुलिस ने मुनव्वर फारूकी समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया था. फारूकी की इस हरकत का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था. इस घटना के बाद से मुनव्वर फारूकी मध्य प्रदेश की जेल में बंद था, जिसे अब अंतरिम जमानत मिलने जा रही है| 

क्या था मामला 


प्रयागराज जिले के जॉर्ज टाउन थाना के एसएचओ शिशुपाल शर्मा ने बताया कि 19 अप्रैल 2020 को मुनव्वर फारूकी के खिलाफ धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में एक मामला दर्ज किया गया था। फारूकी द्वारा यूट्यूब पर अपलोड किए गए एक वीडियो में हिंदू देवी-देवताओं और गोधरा ट्रेन कांड में जलकर मरने वाले हिंदूओं का मजाक उड़ाया गया था। साथ ही गुजरात में हुए दंगे में आरएसएस और गृहमंत्री अमित शाह की भूमिका पर जोर दिया गया था। शर्मा ने बताया कि वर्तमान में इस मामले की जांच क्राइम ब्रांच कर रही है।आपको बता दें इस से पहले मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय ने 15 जनवरी को फारूकी की जमानत पर सुनवाई को स्थगित कर दी थी। फारूकी ने मजिस्ट्रेट की अदालत के बाद उच्च न्यायालय का रुख किया था। साथ ही सत्र न्यायालय ने मुनव्वर की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। इससे पहले, मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने फारूकी की न्यायिक हिरासत को 27 जनवरी तक बढ़ा दिया था।पर अब उन्हें अंतरिम जमानत  मिल गई है |