योगी सरकार ने शुरू की अभ्युदय योजना, Civil Services,NEET,NDA जैसी परीक्षाओं के लिए मिलेगा निःशुल्क कोचिंग

योगी सरकार ने युवाओ के लिए एक नई योजना लाई है | जिसके तहत सिविल सेवा (Civil Services), नीट (NEET), जेईई (JEE), सीडीएस (CDS) और एनडीए (NDA) जैसी प्रतिष्ठित प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता की राह दिखाने वाली सीएम योगी आदित्यनाथ की अभ्युदय योजना को लेकर प्रदेश के युवाओं ने जबरदस्त उत्साह दिखाया है|

योगी सरकार ने शुरू की अभ्युदय योजना, Civil Services,NEET,NDA जैसी परीक्षाओं के लिए मिलेगा निःशुल्क कोचिंग

योगी सरकार ने युवाओ के लिए एक नई योजना लाई है | जिसके तहत सिविल सेवा (Civil Services), नीट (NEET), जेईई (JEE), सीडीएस (CDS) और एनडीए (NDA) जैसी प्रतिष्ठित प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता की राह दिखाने वाली सीएम  योगी आदित्यनाथ की अभ्युदय योजना को लेकर प्रदेश के युवाओं ने जबरदस्त उत्साह दिखाया है| अभ्युदय को लेकर प्रतियोगी छात्रों की उम्मीदों को इस बात से समझा जा सकता है कि अभ्युदय पोर्टल की शुरुआत के महज 20 घंटे के भीतर 97 हजार से अधिक प्रतियोगी छात्रों ने अपना पंजीयन करा लिया है| करीब 46 हजार से अधिक युवाओं ने केवल सिविल सेवा परीक्षाओं के लिए पंजीयन कराया है| इनमें 5,833 अभ्यर्थी सिविल सेवा की मुख्य परीक्षा और 965 युवा सिविल सेवा साक्षात्कार की तैयारी के इच्छुक हैं| यही नहीं, मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के लिए 4000 से अधिक और जेईई के लिए 2500 युवाओं ने पंजीकरण करा लिया है| पंजीकरण का यह आंकड़ा हर मिनट बढ़ता ही जा रहा है. अभ्युदय कक्षाओं की शुरुआत बसंत पंचमी से होनी प्रस्तावित है| 

सीएम योगी ने कहा है कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना प्रतियोगी छात्रों को निःशुल्क स्तरीय कोचिंग पाने का सुअवसर है. योजना के तहत शुरुआती दौर में हर मंडल मुख्यालय अभ्युदय कोचिंग कक्षायें चलेंगी. दूसरे चरण में ऐसी ही कक्षाएं जिला स्तर पर शुरू की जाएंगी| पूरी तरह निःशुल्क इन कक्षाओं में ऑफलाइन और ऑनलाइन प्रशिक्षण तथा विभिन्न परीक्षाओं के पाठ्यक्रम व परीक्षा पैटर्न आदि के संबंध में अभ्यर्थियों को पूरी जानकारी दी जाएगी| यही नहीं, विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबन्धन अकादमी (उपाम) द्वारा क्वेश्चन बैंक, प्रश्नोत्तरी आदि भी तैयार कर वेबसाइट पर उपलब्ध कराया जाएगा| 


मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के क्रियान्वयन के लिए गठित राज्य स्तरीय समिति के सदस्य मंडलायुक्त लखनऊ, रंजन कुमार ने बताया कि मुख्यमंत्री के विशेष प्रयास वाली इस योजना को लेकर युवाओं में उत्साह स्वाभाविक था, लेकिन पोर्टल शुरू होने के शुरुआती 20 घंटों में जिस तेजी के साथ पंजीकरण हुए हैं, वह योजना की सफलता की तस्वीर पेश करती है| उन्होंने बताया कि बुधवार को देर रात करीब 11 बजे अभ्युदय का पोर्टल http://abhyuday.up.gov.in/ लाइव हुआ. गुरुवार शाम करीब साढ़े 7 बजे तक 10.51 लाख बार वेबसाइट विजिट की गई. कुल अलग-अलग परीक्षाओं के लिए कुल 97549 अभ्यर्थियों का पंजीकरण पूर्ण हो चुका है| यह ऐसे अभ्यर्थी हैं, जिन्होंने अपने ईमेल से ओटीपी सत्यापन भी कर दिया है|