मुख्यमंत्री योगी ने कहा, उपद्रवियों को कानून का पालन कराना हम सीखा देंगे

मुख्यमंत्री योगी ने कहा, उपद्रवियों को कानून का पालन कराना हम सीखा देंगे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी ने गाजियाबाद के अस्पताल में आइसोलेशन में रखे गए तबलीगी जमातियों द्वारा किए गए दुर्व्यवहार पर सख्त रूख अपनाया है | सीएम ने इस मामले में कड़ी कार्रवाई के आदेश देते हुए कहा, ‘कानूनन जो भी कड़ी से कड़ी कार्रवाई करनी हो वो करिए| गाजियाबाद में जिन लोगों ने ये हरकत की, उस प्रवृत्ति के लोगों के साथ पूरी सख्ती करो और उन्हें कानून का पालन कराना सिखाओ|"  

बता दें कि सूबे के कई जिला अस्पतालों में तब्लीगी के जमात के लोगो को भर्ती कराया गया है, लेकिन अस्पतालों में भर्ती तब्लीगी जमात के नुमाइंदे  क्वारंटाइन और आइसोलेशन नियमों की जम कर धज्जियां उड़ा रहे है | गाजियाबाद के एमएमजी में भर्ती जमातियों के द्वारा लगातार अस्पताल स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार किए जाने का मामलें  सामने आ रहे है| स्टाफ का कहना कि  नर्सों के सामने ही ये लोग कपड़े बदलने के लिए खोल देते हैं|  अश्लील हरकत करने और बीड़ी-सिगरेट मांगे जाने की भी शिकायत की गई थी|  वही डॉक्टरों का कहना है कि सैंपल देने में भी ये जमती आनाकानी कर रहे हैं। जमाती बेड पर लेटने के बजाय, गैलरी में और वार्ड में इधर-उधर टहल रहे हैं। डॉक्टरों और कर्मचारियों से भिड़ रहें हैं। वार्ड में इधर-उधर थूक रहे हैं|  साथ ही महिला नर्सो से बदसलूकी और अश्लीलता कर रहे है| सीएम ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए  कहा ऐसी प्रवृत्ति के लोगों के साथ पूरी सख्ती बरतेंगे और उन्हें कानून का पालन करना सिखा देंगे|

वहीँ लखनऊ और बलरामपुर अस्पताल में भी यह मामला सामने आया है | बलरामपुर अस्पताल में  पहले से ही 12 तब्लीगी जमती भर्ती हैं,  शुक्रवार की सुबह शेष 15 लोगों को भर्ती कर जब टीम  जांच के लिए सैंपल लेने पहुंची तब जमात के लोगों ने सैंपल देने से इन्कार कर दिया और जमकर बवाल किया। टीम ने जांच आवश्यक बताकर सैंपल देने का अनुरोध किया लेकिन, जमाती आक्रोशित हो गए। जिसके बाद अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को बुला लिया |

वहीँ लखनऊ और बिजनौर  में भी जमातियों के मनमानी का मामला सामने आया है | बिजनौर जिला अस्पताल के क्वारंटाइन वार्ड में भर्ती इंडोनेशिया के जमातियों ने स्वास्थ्यकर्मियों से बदसलूकी कर रहे है। सभी के मोबाइल फोन जब्त कर लिए गए हैं। चौदह दिन के लिए 13 जमाती भर्ती हैं। इनमें आठ जमाती इंडोनेशिया के रहने वाले हैं। नर्मदा हॉस्टल में रखे गए आठ इंडोनेशियाई जमातियों से चिकित्सक परेशान हैं। वे हिंदी, इंग्लिश या उर्दू नहीं समझ रहे हैं।


 केवल पुरुष कर्मचारी ही करंगे काम  -
गाजियाबाद में नर्सों के साथ अभद्रता के बाद बड़ा फैसला लिया गया है| योगी सरकार ने  कड़ा रुख अपनाते हुए ये आदेश दिए है की अब तबलीगी जमात के लोगों की चिकित्सा एवं सुरक्षा के लिए केवल पुरुष कर्मचारी ही रहेंगे | यहाँ महिला स्वास्थ्यकर्मी और महिला पुलिसकर्मी नहीं लगाई जाएंगी|