शहंशाहपुर गौशाला पर बने बायोगैस प्लांट का अवलोकन करने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

अपने दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज कई प्रोग्रामो में शामिल हुवे इसी क्रम में जनपद मुख्यालय से लगभग 18 किलोमीटर दूर नगर निगम द्वारा संचालित विशाल गौशाला पर बनी बायोगैस प्लांट का मुख्यमंत्री ने अवलोकन किया।इस दौरान कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने प्लांट के बारे में विस्तृत जानकारी दी और बताया गया प्राइड कंफ्डरेशन (अडानी ग्रुप) द्वारा वित्त पोषित 30 करोड़ रुपए में निर्मित इस बायोगैस संयंत्र में 2500 किग्रा0 सी एन जी गैस निर्माण, 30 हजार किलोग्राम खाद निर्माण व 40 हजार लीटर तरल फर्टिलाइजर निर्माण की क्षमता है।

शहंशाहपुर गौशाला पर बने बायोगैस प्लांट का अवलोकन करने पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

अपने दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज कई प्रोग्रामो में शामिल हुवे इसी क्रम में जनपद मुख्यालय से लगभग 18 किलोमीटर दूर नगर निगम द्वारा संचालित विशाल गौशाला पर बनी बायोगैस प्लांट का मुख्यमंत्री ने अवलोकन किया।इस दौरान  कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने प्लांट के बारे में विस्तृत जानकारी दी और बताया गया प्राइड कंफ्डरेशन (अडानी ग्रुप) द्वारा वित्त पोषित 30 करोड़ रुपए में निर्मित इस बायोगैस संयंत्र में 2500 किग्रा0 सी एन जी गैस निर्माण, 30 हजार किलोग्राम खाद निर्माण व 40 हजार लीटर तरल फर्टिलाइजर निर्माण की क्षमता है। 

 

 

 

 

प्लांट का 90 फ़ीसदी कार्य पूर्ण हो चुका है। इसी माह के अंत तक आउटपुट होने लगेगा। यहाँ विशाल गौशाला में 300 से अधिक गाये हैं। गायों के गोबर व अन्य ऑर्गेनिक वेस्ट प्रोडक्ट से बायोगैस संयंत्र में गैस बनने की। मीथेन को सी एन जी में कन्वर्ट होगी। इसे कंप्रेस कास्केट में भरकर होटल, सी एन जी पंप व सी एन जी वाहनों में प्रयोग किया जा सकता है।  इस कार्यकर्म के दौरान मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी  व नगर आयुक्त प्रणय सिंह उपस्थित रहे।