छत्तीसगढ़ के सीएम ने प्रेस वार्ता कर पेपर लिक समेत कई मामले को लेकर सरकार को घेरा

उत्तर प्रदेश के चुनाव को अब ज्यादा दिन नहीं है जैसे जैसे चुनाव का समय नजदीक आ रहा है वैसे वैसे राजनैतिक पार्टिया तमाम तरह से तैयारियों में जुट चुकी है इसी क्रम में प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में भी लगातार तमाम पार्टियों के आने जाने का क्रम जारी है आज इसी क्रम में वाराणासी में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल पहुंचे हुवे है सबसे पहले छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने बाबा के दरबार में हाजरी लगाई |

छत्तीसगढ़ के सीएम ने प्रेस वार्ता कर पेपर लिक समेत कई मामले को लेकर सरकार को घेरा

उत्तर प्रदेश के चुनाव को अब ज्यादा दिन नहीं है जैसे जैसे चुनाव का समय नजदीक आ रहा है वैसे वैसे राजनैतिक पार्टिया तमाम तरह से तैयारियों में जुट चुकी है इसी क्रम में प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र में भी लगातार तमाम पार्टियों के आने जाने का क्रम जारी है आज इसी क्रम में वाराणासी में छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल पहुंचे हुवे है सबसे पहले छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने बाबा के दरबार में हाजरी लगाई | 

 

 


 इस के बाद उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में हीस्सा लिया और जम कर बीजेपी सरकार की कमियों को गिनाया है उन्होंने कहा विश्वानाथ धाम और मां अन्नपुर्णा का मंदिर तो भव्य बना दिया गया है लेकिन मां अन्नपुर्णा मंदिर जाने के लिए बहुत छोटा रास्ता दिया गया जिसकी वजह से बाबा का दरबार माँ अन्नपूर्णा के मंदिर से अलग हो गया है इस दौरान उन्होंने कहा की आज दर्शन के दौरान वहां के महंत ने बताया कि मां अन्नपूर्णा को विश्वनाथ मंदिर से अलग किया जा रहा है इस दौरान बघेल ने कहा कॉरिडोर से यहां के व्यपारी काफी चिंतित है और दुखी है छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने किसानो के मुद्दों पर कहा देश मे डीपी खाद की काफी कमी है किसानों को खाद सरकार उपलब्ध नही करवा पा रही है | इस दौरान उन्होंने कहा 2022 में चंद दिन है लेकिन उनकी आय से दोगुनी करने की बात कही गई थी वह नही हो रही | 

 

 


पेपर लिक के मामले पर उन्होंने कहा की 2017 से आजतक पेपर यूपी में लीक हुए है काफी बच्चो का भविष्य अन्धकार में है लेकिन सरकार को कोई परवाह नहीं है पेपर लिक के दौरान सरकार ने बहुत से बात कही लेकिन अपने बातो पर उन्होंने अमल नहीं किया बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुवे उन्होंने कहा किसान , बेरोजगार के साथ छल किया जा रहा है पूरे प्रदेश में भयावह स्थिति है , सरकार से किसान , नौजवान के साथ सभी नाराज है