AAP की बिजली स्किम को पंजाब सरकार ने दिया झटका किया बड़ा ऐलान | Electricity Scheme

पंजाब के सीएम ने बड़ा ऐलान कर करीब 53 लाख परिवारों को फायदा पहुंचाया है बता दे सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका दिया है दरसअल आम आदमी पार्टी ने जनता की सबसे प्रमुख समस्या बिजली बिला पर एक वादा किया था

AAP की बिजली स्किम को पंजाब सरकार ने दिया झटका किया बड़ा ऐलान | Electricity Scheme

पंजाब के सीएम ने बड़ा ऐलान कर करीब 53 लाख परिवारों को फायदा पहुंचाया है  बता दे सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका दिया है दरसअल आम आदमी पार्टी ने जनता की सबसे प्रमुख समस्या बिजली बिला पर एक वादा किया था|

इसी बिजली के बिल पर सीएम चरणजीत सिंह चन्नी ने बड़ा ऐलान कर दिया है बताया जा रहा है की पंजाब के 53 लाख परिवारों को लाभ देते हुवे 2kw तक बिजली मीटर इस्तेमाल करने वालो का बकाया बिल माफ़ कर दिया जाएगा साथ ही कटे हुवे बिजली कनेक्शन को भी बहाल कर दिया जाएगा जो बकाया धन राशि है वो करीब 1200 बताई जा रही जिसको पंजाब सरकार अपनी जेब से बिजली की कंपनियों को भरेगा |  

दरसल यहाँ पर आप पार्टी को इसलिए भी झटका लगना संभव है क्यों की आप पार्टी ने पंजाब ही नहीं कई राज्यों में फ्री बिजली देने का वादा किया था आप पार्टी ने कहा था की अगर उनकी सरकार बनती है तो करीब 300 यूनिट तक बिजली फ्री दी जाएगी 

लेकिन आप पार्टी की इस स्किम पर पानी फेरते हुवे पंजाब सरकार ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के बिजली बिल को लेकर बड़ा ऐलान किया है सीएम ने कहा है जिन भी परिवारों के बिजली कनेक्शन बिल नहीं भर पाने की वजह से कटे है और जो गरीब है साथ ही 2 किलो वाट तक के उपभोक्ता है उनका जो भी पिछला बकाया बिल है वप सभी बकाया बिल सरकार भरेगी इस दौरान सीएम ने कहा जिनके कनेक्शन इसलिए काटे गए है की वो डिफाल्टर है उनका भी बिल सरकार ही भरेगी |

पंजाब के 53 लाख परिवार के लाभ के लिए किया गया ये ऐलान दोनों पार्टियों को विधान सभा चुनाव में कितना लाभ पहुंचाएगी अब ये आने वाला वक्त ही बताएगा या कह सकते है ये बिजली बिल कितना किसको फायदा देगी ये चुनाव में पता चलेगा | 

वही दूसरी तरफ  खबर सामने आ रही है की मुख्यमंत्री चन्नी ने प्रेस कांफ्रेंस में दावा किया की नवजोत सिद्धू बातचीत के लिए राजी हुवे

 

ALSO READ : 

Mahant Narendra Giri Suicide Case

Learn Digital Marketing in Varanasi