प्रधानमन्त्री के संसदीय क्षेत्र में कुछ ऐसा मनाया गया दोनों महापुरुषो का जन्मदिन

शहर बनारस में आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व देश के महान पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री जी का जन्म दिन धूम धाम से मनाया जा रहा बनारस के तमाम जगहों पर अधिकारियो व कई पार्टी के कार्यकर्ताओ के द्वारा अपने अपने तरीके से जन्मतिथि को मना रहे है इसी क्रम में कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने आयुक्त सभागार में गांधी जी एवं शास्त्री जी के चित्र का अनावरण कर माल्यार्पण किया

प्रधानमन्त्री के संसदीय क्षेत्र में कुछ ऐसा मनाया गया दोनों महापुरुषो का जन्मदिन

शहर बनारस में आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व देश के महान पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री जी का जन्म दिन धूम धाम से मनाया जा रहा बनारस के तमाम जगहों पर अधिकारियो व कई पार्टी के कार्यकर्ताओ के द्वारा अपने अपने तरीके से जन्मतिथि को मना रहे है इसी क्रम में कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने आयुक्त सभागार में गांधी जी एवं शास्त्री जी के चित्र का अनावरण कर माल्यार्पण किया। इस दौरान अपने संबोधन में कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने सभी को गांधी जयंती की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उक्त दोनों महापुरुषों के आदर्शों से सीख लेकर हम सभी अपने जीवन शैली को सरल व मृदुभाषी बनाएं। स्वच्छता में विशेष योगदान दें। अपने घर, मोहल्लों, ऑफिस व आसपास क्षेत्र में स्वच्छता का वातावरण बनाएं। तीसरा अपने दायित्वों का निर्वहन अच्छे से करें। 

 


और वही जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने भी राइफल क्लब सभागार में  भी गांधी जयंती एवं लाल बहादुर शास्त्री के जन्मदिन दिवस पर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और लाल बहादुर शास्त्री के चित्र पर भी माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किया। 


जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने गांधी जयंती के अवसर पर अपने सम्बोधन में कहा कि इनके आदर्शो को अपने जीवन में उतारना ही इसके मूल में है। उन्होंने कहा कि गांधीजी ने संकल्प लिया और उससे प्रेरणा लेकर गांधीजी ने सत्य और अहिंसा के बल पर देश को आजादी दिलाने का मार्ग प्रशस्त किया। लाल बहादुर शास्त्री के दृढ़ संकल्प ने ही स्वाभिमानी, आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित किया और देश को एक दिशा दी जिससे देश में समृद्धि का मार्ग प्रशस्त हुआ। 

 

 

 

बनारस में तमाम पार्टियों ने भी आज महापुरुषो के जयंती की अवसर पर उन्हें याद किया शहर के मैदागिन पर आज कोंग्रेस कार्यकर्ताओ के द्वारा बापू के प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर के उन्हें याद किया गया इस दौरान विधायक श्री अजय राय ने कहा की  महात्‍मा गांधी जी व लालबहादुर शास्त्री जी महज एक नाम नहीं, बल्कि एक विचार हैं, एक सोच हैं। एक ऐसी सोच, जो न केवल भारत, बल्कि पूरी दुनिया में आज भी प्रासंगिक है और करोड़ों लोगों को प्रेरित करती है। अहिंसा व सत्य के मार्ग पर चलना नेतृत्व करना,व गलत को गलत कहना ,देश के माटी के खातिर सँघर्ष करना महात्‍मा गांधी के दर्शन का मूल मंत्र रहा,जिसके बारे में उन्‍होंने कहा था, 'अहिंसा एक दर्शन है, एक सिद्धांत है और एक अनुभव है, जिसके आधार पर समाज को बेहतर बनाया जा सकता है।गाँधी ही अतीत है और गाँधी ही भविष्य है।शास्त्री जी अपनी सादगी, देशभक्ति और ईमानदारी ,कार्य कुशलता के लिए जाने जाते थे |