Bird Flu News: भारत में पक्षियो में मिल रहे बर्ड फ्लू वायरस कोरोना से कितने खतरनाक हैं?

देश में अभी कोरोना महामारी का खौफ खत्म नहीं हुआ है कि एक नई बीमारी ने देश में दस्तक दे दी है। दरअसल, देश के कई राज्यों में पक्षियों में बर्ड फ्लू H5N1 की पुष्टि हुई है। राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश में पक्षियों के मरने की खबरों के बाद प्रशासन अलर्ट हो चुका है। बर्ड फ्लू के वायरस बेहद खतरनाक होते हैं और यह इंसानों को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

Bird Flu News: भारत में पक्षियो में मिल रहे बर्ड फ्लू वायरस कोरोना से कितने खतरनाक हैं?

देश में अभी कोरोना महामारी का खौफ खत्म नहीं हुआ है कि एक नई बीमारी ने देश में दस्तक दे दी है। दरअसल, देश के कई राज्यों में पक्षियों में बर्ड फ्लू H5N1 की पुष्टि हुई है। राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश में पक्षियों के मरने की खबरों के बाद प्रशासन अलर्ट हो चुका है। बर्ड फ्लू के वायरस बेहद खतरनाक होते हैं और यह इंसानों को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं।

देश के अलग-अलग राज्यों में मरे पक्षियों में H5N8 और H5N1 वायरस मिले हैं। कुछ जगहों पर कौव्वों में H5N8 वाले वायरस मिले हैं। ये वायरस काफी संक्रामक होते हैं। आमतौर पर यह वायरस पक्षियों में ही पाया जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक पक्षियों से इस वायरस के इंसानों में मिलने के कोई सबूत नहीं है। लेकिन बावजूद इसके सबको सतर्क रहने की जरूरत है। यह वायरस प्रवासी पक्षियों से फैलता है। भारत में इस वक्त प्रवासी पक्षी काफी तादाद में हैं।

हालांकि H5N8 एवियन इन्फ्लूएंजा से सिर्फ कौवों की ही मौत हुई है। H5N1 वायरस को WHO काफी खतरनाक बताता है। खास बात ये है कि इस वायरस के इंसानों में भी यदा-कदा मिलने की पुष्टि हुई है। हालांकि, इंसानों से इंसानों में इस वायरस के ट्रांसमिशन की पुष्टि नहीं हुई है। अगर इंसानों के इस वायरस की चपेट में आना जानलेवा होता है। इस वायरस से पीड़ित 60 फीसदी लोगों की मौत हो जाती है। इंसानों में इसके लक्षण बेहद सामान्य होते हैं जैसे सर्दी, जुकाम, सांस में तकलीफ और बार-बार उल्टी आना। इसके अलावा मांसपेशियों में ऐठन, डायरिया और सीने में दर्द भी हो सकता है।

पहले पक्षियों के संपर्क में आने से ही बर्ड फ्लू होने का खतरा था, लेकिन 2013 में चीन में इंसानों से इंसानों को बर्ड फ्लू होने का पहला मामला सामने आया था। पिता से संक्रमित हुई 32 साल की महिला की मौत हो गई थी। इससे पहले मनुष्यों के एक दूसरे से संपर्क में आने से एच7एन9 वायरस के फैलने के सबूत नहीं मिले थे।
राजस्थान, मध्य प्रदेश के बाद हिमाचल प्रदेश और केरल में भी बर्ड फ्लू का कहर है। इन राज्यों में अब तक सैकड़ों पक्षियों की मौत हो चुकी है। इसके बाद से यहां की राज्य सरकारों ने अलर्ट जारी कर दिया है। वहीं बर्ड फ्लू के कारण बिहार, झारखंड, उत्तराखंड और कर्नाटक में भी सतर्कता बरती जा रही है।