अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि भव्य मंदिर का निर्माण | श्री राम जन्मभूमि अयोध्या न्यूज़ | ZNDM

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के मुताबिक, अयोध्या कानून के तहत,67.703 एकड अधिकृत संपूर्ण जमीन, जिसमें भीतरी और बाहरी आंगन भी शामिल है उसे नवगठित श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को सौंप दिया जाएगा। यह ट्रस्ट अयोध्या में भव्य और दिव्य श्रीराम मंदिर निर्माण और संबंधित विषयों पर निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र होगा।

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के मुताबिक, अयोध्या कानून के तहत,67.703 एकड अधिकृत संपूर्ण जमीन, जिसमें भीतरी और बाहरी आंगन भी शामिल है उसे नवगठित श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को सौंप दिया जाएगा। यह ट्रस्ट अयोध्या में भव्य और दिव्य श्रीराम मंदिर निर्माण और संबंधित विषयों पर निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र होगा। वहीं, पीएम ने यह भी जानकारी दी कि अयोध्या में मस्जिद बनाने के लिए पांच एकड़ जमीन सुन्नी वक्फ बोर्ड को देने का अनुरोध उत्तर प्रदेश सरकार से किया गया जिस पर प्रदेश सरकार सहमति मिल गई है। 
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  ने लोकसभा में बुधवार सुबह 11 बजे लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के बाद संबोधित किया। गौरलब है कि, बिते साल 9 नवंबर को राममंदिर पर ऐतिहासिक फ़ैसला हुआ था। सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के निर्देशानुसार श्रीराम जन्मस्थली पर भव्य मंदिर के निर्माण के लिए और इससे जुडे़ अन्य विषयों के लिए एक विशाल योजना तैयार की है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक एक स्वायत्त ट्रस्ट श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के गठन का प्रस्ताव पारित किया गया है। सरकार ने ट्रस्ट निर्माण से संबंधित गजट नोटिफिकेशन भी जारी कर दिया।