सांसद सुनील मंडल व तृणमूल कांग्रेस के 5 विधायकों समेत 10 विधायकों ने थामा भाजपा का दामन

शनिवार को गृह मंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे के तहत मिदनापुर पहुंचते ही पश्चिम बंगाल चुनाव रणभूमि में एक बड़ा उलटफेर देखने को मिला। जब टीएमसी से हाल ही में इस्तीफा दे चुके व ममता के खास पूर्व मंत्री शुभेंदु अधिकारी भाजपा की ओर ढुलक गए। जानकर हैरानी होगी कि इस दौरान सांसद सुनील मंडल के साथ और भी 10 विधायकों ने भाजपा का दामन थाम लिया जिनमें से 5 विधायक तृणमूल कांग्रेस के हैं।

सांसद सुनील मंडल व तृणमूल कांग्रेस के 5 विधायकों समेत 10 विधायकों ने थामा भाजपा का दामन

शनिवार को गृह मंत्री अमित शाह के बंगाल दौरे के तहत मिदनापुर पहुंचते ही पश्चिम बंगाल चुनाव रणभूमि में एक बड़ा उलटफेर देखने को मिला। जब टीएमसी से हाल ही में इस्तीफा दे चुके व ममता के खास पूर्व मंत्री शुभेंदु अधिकारी भाजपा की ओर ढुलक गए। जानकर हैरानी होगी कि इस दौरान सांसद सुनील मंडल के साथ और भी 10 विधायकों ने भाजपा का दामन थाम लिया जिनमें से 5 विधायक तृणमूल कांग्रेस के हैं।

वहीं दूसरी ओर गृह मंत्री अमित शाह ने ममता बनर्जी पर जोरदार निशाना साधा। इस दौरान उन्होंने कहा कि शुभेंदु की अगुवाई में आज सभी अच्छे लोग भाजपा से जुड़ रहे हैं और दीदी कहती हैं कि भाजपा दलबदल कराती है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जब दीदी ने कांग्रेस छोड़कर तृणमूल ज्वाइन किया था तो वह क्या था । चुनाव आते-आते तृणमूल खाली हो जाएगी और जो हमारे साथ आ रहे हैं वह मां-माटी-मानुष के नारे के साथ निकले थे।अपने भाषण में शाह ने ममता बनर्जी को ही निशाने पर रखा। उन्होंने कहा कि इस महान भूमि को प्रणाम करता हूं, जहां शिक्षा शास्त्री ईश्वरचंद्र विद्यासागर और शहीद खुदीराम बोस का जन्म हुआ। 18 साल का लड़का हाथ में गीता लेकर हंसते-हंसते फांसी पर झूल गया। उनकी शहादत के बाद लोगों में खुदीराम की धोती पहनने की होड़ लग गई थी