पूर्व मंत्री अजय राय के शस्त्र लाइसेंस रद्द करने के मामले में कॉन्ग्रेसप्रतिनिधि मिला पुलिसमहा निरीक्षक से

वाराणसी में आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विधायक व पूर्व मंत्री अजय राय जी के समर्थन में पुलिस महा निरीक्षक महोदय वाराणसी जोन से की मुलाकात दिया पत्र बता दें कि आज वाराणसी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रतिनिधिमंडल वाराणसी जोन से मुलाकात करके उन्हें अवगत कराया है

पूर्व मंत्री अजय राय के शस्त्र लाइसेंस रद्द करने के मामले में कॉन्ग्रेसप्रतिनिधि मिला पुलिसमहा निरीक्षक से

वाराणसी में आज कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विधायक व पूर्व मंत्री अजय राय जी के समर्थन में पुलिस महा निरीक्षक महोदय वाराणसी जोन से की मुलाकात दिया पत्र बता दें कि आज वाराणसी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रतिनिधिमंडल वाराणसी जोन से मुलाकात करके उन्हें अवगत कराया है कि लोकप्रिय जनप्रतिनिधि पूर्व मंत्री एवं पूर्व विधायक अजय जी शस्त्र लाइसेंस निरस्त कर दिया जा रहा है इस संबंध में उन्होंने बताया कि 1996 से लगातार 2017 तक  विधायक रहे तथा इस दौरान मंत्री भी बने साथ ही लगातार जन मुद्दों को लेकर के लिए संघर्ष करते हुए आगे रहे और 1991 में उत्तर प्रदेश के पुलिस के द्वारा चयनित माफिया मुख्तार अंसारी के द्वारा इनके बड़े भाई की हत्या भी की गई और जिसमें यह मुकदमा वादी है और वर्तमान समय में जो माहौल है उसमें इनकी सुरक्षा जरूरी है के अभी कल ही लखनऊ में  माफियाओं के द्वारा जिस तरह से वहां के जनप्रतिनिधि की दिनदहाड़े हत्या की गई है इसके मद्देनजर पूर्व विधायक अजय राय जी को सुरक्षा की जरूरत है क्योकि अजय राय जी जनता की समस्याओं को लेकर लगातार संघर्ष करते रहते हैं ऐसे में इनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी और जिला प्रशासन की बनती है इस दौरान  कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा  की ऐसा आभास हो रहा है कि इन से व्यक्तिगत रखते हुए संस्था के द्वारा लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है जो मुकदमों का उल्लेख प्रशासन के द्वारा किया गया है वह अधिकतर राजनीतिक मुकदमे है और जो मुकदमे पहले कह ज्यादातर में वह बरी भी हो चुके हैं और किसी भी अपराध में लिप्त नहीं है लगभग लगभग जो भी मुकदमे हैं वह सभी राजनैतिक है इसीलिए हम सभी  की यह अपील है कि उनकी सुरक्षा के लिए जान माल की सुरक्षा के लिए प्रशासन विशेष ध्यान दें और उत्पीड़न बंद करें